मोबाइल ने ली 2 वर्षीय बच्चे की जान, खेलते-खलते चौथी मंज‍िल से लगाई झलांग

सूरत: आज के समय मोबाइल एक ऐसा जरिया हो गया है कि अगर मोबाइल ना हो तो जैसे पता नहीं जीवन कैसे ही चलेगा, वही आज के समय में छोटे बच्चों को बहलाए रखने के लिए अक्सर बेहद से माता-पिता मोबाइल का सपोर्ट लेते हैं। ऐसे माता-पिता को सतर्क रहने वाला एक मामला गुजरात के सूरत से सामने आया है। शहर के लिंबायत क्षेत्र में सिर्फ दो वर्ष के बच्चे को एक मां ने कार्टून खेलने के लिए फ़ोन दे दिया था।

वही बच्चा फ़ोन से खेलते-खेलते चौथी मंज़िल की बालकनी से नीचे गिर गया तथा घर में उपस्थित मां को भनक तक ना लगी। बच्चे के चौथी मंज़िल से गिरने का मामला सीसीटीवी में क़ैद हुआ है। वहीं, बच्चे की हॉस्पिटल में इलाज के चलते मौत हो गई। सीसीटीवी में क़ैद हुई ये फोटोज सूरत शहर के लिंबायत क्षेत्र की है। लिंबायत क्षेत्र के प्रताप नगर सोसायटी में मौजूद एक अपार्टमेंट की चौथी मंज़िल से एक दो वर्ष का मासूम ऊपर से नीचे ज़मीन पर गिरता हुआ स्पष्ट देखा जा सकता है।

वही बच्चे की नीचे गिरने की आवाज़ सुनकर एक व्यक्ति उस बच्चे के समीप पहुंचता है तथा उसे तुरंत अपनी हाथों में उठा लेता है। बच्चे को उठाने वाले व्यक्ति को समझ में भी नहीं आता है कि ये बच्चा किसका है तथा कहां से कैसे नीचे गिरा है। यही सोचकर वो इधर उधर दौड़ता हुआ भी नजर आया ये घटना सीसीटीवी में कैद हो गई है। दरअसल, प्रताप नगर क्षेत्र की एक रिहायशी अपार्टमेंट की चौथी मंज़िल पर रहने वाले वसीम अंसारी शनिवार को काम पर गए थे। घर में उनकी बीवी तथा इकलौता दो वर्षीय बेटा अकेले थे।

'कांग्रेस द्वारा स्पांसर है किसानों का प्रदर्शन, भाजपा के खिलाफ है पूरा आंदोलन..', पार्टी के MLA ने ही खोली पोल

हिंदी दिवस: मातृभाषा हिंदी के लिए 'नेहरू' से भी लड़ गए थे सेठ गोविंददास, लौटा दिया था पद्मभूषण सम्मान

सरकार ने फिट इंडिया क्विज में पहले 2 लाख स्कूली छात्रों के लिए मुफ्त पंजीकरण की घोषणा की

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -