डाटा लीक: भारत के आगामी चुनावों में फेसबुक की भूमिका

नई दिल्ली: यूज़रों का डाटा लीक करके सोशल मीडिया के साथ ही राजनीतिक जगत में भी हड़कंप मचा देने वाली सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक के  सीईओ मार्क जकरबर्ग मंगलवार को अमेरिकी कांग्रेस के समक्ष पेश हुए और उन्होंने डाटा लीक होने और उन जानकारियों से चुनावों के प्रभावित होने संबंध में अमेरिकी कांग्रेस अधिकारीयों द्वारा पूछे गए सवालों के उत्तर दिए.

यहां जकरबर्ग ने भरोसा दिलाया कि भारत में होने वाले आगामी चुनाव को फेसबुक के माध्‍यम से प्रभावित नहीं होने देंगे. इसके लिए वो प्रयास कर रहे हैं. जकरबर्ग ने एक सवाल के जवाब में कहा, '2018 चुनाव के मद्देनजर बहुत ही महत्‍वपूर्ण साल है. इस साल अमेरिका में मध्यावधि चुनाव होने हैं. वहीं, भारत, पाकिस्‍तान, ब्राजील जैसे देशों में भी चुनाव हैं. हम भरोसा दिलाते हैं कि हम वो सब कुछ करेंगे जिससे ये चुनाव प्रभावित न हों.'

 

गौरतलब है कि जकरबर्ग ने 2018 के चुनावों को लेकर फेसबुक पर एक पोस्ट भी लिखा था, जिसमे उन्होंने बताया था कि कंपनी ने डाटा लीक मामले में कई बड़े कदम उठाए हैं और आगे भी इस तरह की गतिविधियों को रोकने के लिए प्रयास कर रही है. इससे पहले फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग से अमेरिकी कांग्रेस के 44 सेनेटर्स ने उनसे बारी-बारी से सवाल पूछे. सभी को 5-5 मिनट दिए गए थे. ये सुनवाई करीब 5 घंटे तक चली.  

डाटा लीक: आज अमेरिकी कांग्रेस के सामने पेश होंगे जकरबर्ग

ऐपल के सह संस्थापक ने तोड़ा फेसबुक से नाता

कांग्रेस करेगी अनशन, बीजेपी रखेगी उपवास

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -