फगवाड़ा हिंसा में घायल युवक की मौत

दलित संगठनों और दक्षिणपंथी समूहों के सदस्यों के बीच पंजाब के फगवाड़ा में हुई हिंसा में एक युवक घायल हो गया था जिसे इलाज के लिए लुधियाना के एक अस्पताल में भर्ती करवाया गया था जहा उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई. आज मौत के बाद पुलिस ने बताया कि इस संघर्ष में यशवंत उर्फ बॉबी (19) गंभीर रूप से घायल हो गया था. कल रात लुधियाना के डीएमसी अस्पताल में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. अधिकारियों ने बताया कि ''डॉक्टरों द्वारा पोस्टमार्टम करने के बाद कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच यशवंत का शव लुधियाना से आज सुबह फगवाड़ा लाया गया. शहर में तनाव जारी रहने के बीच शांतिपूर्वक उसका अंतिम संस्कार करा दिया गया.'' अब इसके बाद इलाके में सभी संवेदनशील स्थानों पर पुलिस ने चौकसी बड़ा दी है.

पंजाब पुलिस के अलावा रैपिड एक्शन फोर्स, एंटी-रॉटय स्क्वैड और महिला पुलिस को काम पर लगा दिया गया है ताकि किसी भी अप्रिय घटना से बचा जा सके. गौरतलब है कि 13 अप्रैल को हुई इस हिंसा का कारण नेशनल हाइवे-1 के एक ट्रैफिक चौराहे का नाम बदलने का मुद्दा था और इसमें चार लोग घायल हो गए थे. इस दौरान हिंसा में शामिल यशवंत के सिर पर चोट लगी थी.

हिंसा दलितों द्वारा गोल चौक पर भीम राव आंबेडकर की तस्वीर कथित तौर पर लगाए जाने पर दलित संगठनों और हिंदू दक्षिणपंथी समूहों के सदस्यों के बीच विवाद से जन्मी चौराहे का नाम बदलकर संविधान चौक करने की भी कोशिश की. बहरहाल देश में बेमतलब के मुद्दों पर हिंसा, आगजनी, अराजकता का माहौल बनाना और ऐसी ही नोजवानो कि मौत आम खबर हो गई है जिस पर फ़िलहाल कोई अंकुश नहीं लग पा रहा है. 

चार दर्जन आर्मी अफसर अभी भी उलझे है हनीट्रैप में

ट्रैन के अंदर बैग में महिला और बच्ची की लाश, देखे वीडियों

सोशल साइट पर फर्जी अकाउंट बना कर लुटे लाखों

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -