आखिर क्यों होता है बालों का रंग काला

आखिर क्यों होता है बालों का रंग काला

दुनिया में कई ऐसे सवाल हैं जिनके जवाब हम नहीं जानते हैं. जी हाँ, कई ऐसे सवाल जो हमारे मन में घूमते हैं लेकिन उनके जवाब ना ही हम जानते हैं और ना ही वह जिससे हम यह पूछते हैं. ऐसे में वह सवाल हमारे मन में वैसे का वैसा रह जाता है. जैसे रोटियां गोल ही क्यों बनती हैं, गाडी के टायर गोल ही क्यों होते हैं, मौसम अलग-अलग क्यों हैं, मम्मी पापा से ज्यादा अच्छी क्यों होती हैं, बालों का रंग काला ही क्यों होता हैं..? ऐसे ही कई सवाल जो हमारे मन को झकझोर देते हैं. अब इन सभी सवालों के जवाब तो हम नहीं जानते हैं लेकिन हाँ, हम आपको यह जरूर बता सकते हैं कि हमारे बालों का रंग काला ही क्यों होता हैं.

दरअसल बालों में मेलानिन तत्व की मात्रा सबसे ज्यादा पाई जाती हैं जिसके कारन वह काले रंग के होते हैं और जैसे-जैसे यह तत्व कम होता जाता हैं वैसे-वैसे बालों में सफेदी आ जाती हैं और बालों का रंग काले से सफेद होने लगता हैं. बाल बचपन से काले होते हैं क्योंकि हमारे बालों में बचपन से मेलानिन तत्व सबसे ज्यादा मिला होता हैं जो बालों को काल बनाए रखने में मदद करता हैं.

मेलानिन तत्व बालों की रंगत सुधारता हैं अगर वह ज्यादा हैं तो बाल काले रहेंगे, कम हैं तो बाल सफेद हो जाएंगे और मीडियम हैं तो बाल भूरे होंगे. मेलानिन तत्व जैसे-जैसे बालों से नष्ट होता हैं वैसे ही बाल सफेद हो जाते हैं और फिर लोगों को अपने बालों में डाई और मेहँदी लगानी पड़ती है. उम्मीद है हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी आपको पसंद आई होगी और आप इस खबर को अपने दोस्तों से भी साझा करेंगे.

देख भाई देख..

केले का पेड़ लड़को को बना सकता है नपुंसक...

एक ऐसा एप जो लड़कियों को बॉयफ्रेंड रेंट पर देगा

राहुल गांधी की मुश्किलें बढ़ी, एक और मुकदमा दर्ज

?