लगातार बारिश से सब्जियों के दाम 40 फीसदी तक बढे

उद्योग एवं वाणिज्य संगठन एसोचैम के अनुसार देश के विभिन्न हिस्सों में जारी भारी बारिश से आपूर्ति में बाधा पड़ने के कारण पिछले एक महीने में दिल्ली एवं राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में सब्जियों खासकर भिंडी, बंदगोभी, बीन्स, बैगन और करेला की कीमतों में 35 से 40 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी हुई है.

एसोचैम ने फलों एवं सब्जियों की एशिया की सबसे बड़ी थोक मंडी आजादपुर के कारोबारियों के हवाले से कहा कि भारी बारिश के कारण खेतों में पानी जमा होने से सब्जियों की कटाई नहीं हो पा रही है. इससे मंडी तक सब्जियों की आपूर्ति बाधित होने से पिछले एक महीने में इनके दाम 40 फीसदी तक बढ़े हैं.

उधर दिल्ली के व्यापारियों का कहना है कि शीघ्र सड़ने वाली सब्जियाँ बंदगोभी, भिंडी, बैगन, करेला और बीन्स के थोक दाम रिकॉर्ड उच्चतम स्तर पर पहुंच गए .वहीं, मौसम विभाग ने अगले कुछ दिनों में और बारिश का अनुमान व्यक्त किया है. यदि ऐसा रहा तो इनके दाम में फिलहाल राहत की उम्मीद करना बेमानी होगा.

एसोचैम द्वारा जारी रिपोर्ट में 30 जून से 30 जुलाई के दौरान भिंडी, गोभी और करेले की थोक एवं खुदरा कीमत का अंतर 35 से 40 प्रतिशत तक पहुंचने की जानकारी दी गई है. थोक मंडी में 20 से 25 रुपये प्रति किलो तक बिकने वाली बंदगोभी की कीमत अब 35 रुपये प्रति किलोग्राम तक पहुँच चुकी है. इसी तरह आजादपुर मंडी में बैगन की थोक कीमत 20 से 25 रुपये प्रति किलोग्राम है.

एसोचैम ने इन हालात को देखते हुए सरकार से अपील की है कि बुनियादी ढांचागत सुविधाओं को मजबूत करें. उसने कहा कि फलों एवं सब्जियों की आपूर्ति बहाल रखने के लिए सार्वजनिक निजी भागीदारी के जरिये अधिक से अधिक कोल्ड स्टोरेज बनाने तथा दूर-दराज के इलाकों से अपनी सब्जियां मंडी तक लेकर आने वाले किसानों को बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराने की जरूरत है.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -