वसुंधरा राजे: तंत्र शिक्षा को बढ़ावा देना ज़रूरी, संस्कृत विश्वविद्यालय में पढ़ाई जाएगी तंत्र विद्या

वसुंधरा राजे: तंत्र शिक्षा को बढ़ावा देना ज़रूरी, संस्कृत विश्वविद्यालय में  पढ़ाई जाएगी तंत्र विद्या
Share:

जयपुर: मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे द्वारा एक चोकाने वाला बयान दिया गया है. उन्होंने कहा है कि वो तांत्रिक पूजा करती रहती हैं लेकिन उनके तंत्र-मंत्र के बारे में दिए गए बयान की खूब चर्चा रही. मुख्यमंत्री ने कहा कि आज तंत्र शिक्षा को बढ़ावा देने की जरुरत है.

जयपुर के तोतुका सभागार में हुए वैदीक सम्मेलन के दौरान सीएम राजे ने कहा कि संस्कृत विश्वविद्यालय में तंत्र विद्या पढ़ाई जाएगी. राजे ने तंत्र-मंत्र को कुछ लोग जादू टोना से जोड़कर देखते हैं. इस दौरान उन्होंने तंत्र विद्या को बढ़ाने पर जोर दिया. राजे कहना था कि तंत्र विद्या के लिए स्कूलों में कोचिंग दी जाएगी. संस्कृत और अन्य यूनिवर्सिटी में हम इस तंत्र विद्या को बढ़ाएंगे.

बता दे की वसुंधरा राजे चंद्रास्वामी के साथ भी सीएम हाउस में तांत्रिक पूजा करवा चुकी हैं और दतिया मंदिर में भी बगुलामुखी पूजा कराने जाती रहती हैं.हिंगोनिया गौशाला में हजारों गायों के मरने के बाद वसुंधरा राजे ने पहली बार अपना मुंह खोला. वसुंधरा ने गायों की मौत पर दुख जताया. उन्होंने द्रौपदी चीर हरण से गायों की तुलना करते हुए कहा कि गायों की स्थिति भी वैसी ही हो गई है. गायों के पेट से कीलें और प्लास्टिक निकलती हैं.

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
Most Popular
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -