उरी हमले को लेकर केन्द्र सरकार पर सवाल उठाये तेजस्वी यादव ने

उरी में शहीद हुए जवानों को लेकर पूरे देश में खल बली मची हुए है। हर जगह से कोई न कोई कमेंन्ट मिल ही रहे हैं। बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने भी आतंकवादियों पर निशाना साधते हुए कहा कि आतंकवादियों के ट्रेनिंग कैम्पों को चिन्हित करके उन पर तुरंत ही हमला करना चाहिए। और यही शहीद जवानों के लिए सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

इसके साथ ही तेजस्वी ने केन्द्रसरकार से सवाल पूछते हुए यह भी कहा कि अब सरकार को किस चीज का इंतजार है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के हाथों को किसने बांध कर रखा है। जवानों के शहीद होने के बाद यह साफ होना चाहिए कि सरकार का अगला कदम क्या होगा। सरकार को भी अमेरिका के समान पैंतरा अपनाना चाहिए। जिस प्रकार अमेरिका ने आतंकवादियों के कैम्प को चिन्हित करके उन पर कार्यवाही कि थी। ठीक उसी प्रकार हमारे पास भी वैसा ही सिस्टम होना चाहिए।

तेजस्वी ने कहा कि कश्मीर हमारे हाथों से निकला जा रहा है। ऐसे में ठोस कदम उठाने की जरूरत है। इसलिए केन्द्र सरकार को बताना चाहिए कि वो क्या करने वाली है। बिहार में शहीदों के परिजनों को सहायता राशि को लेकर उठे विवाद पर विराम लगाते हुए उपमुख्यमंत्री ने कहा कि शहीदों के सम्मान में कोई कमी नहीं होनी चाहिए। 5 लाख या 10 लाख देना तो राजनीति है। शहीदों ने जो देश के लिए किया उसकी भरपाई करोड़ों रूपए देकर भी नहीं की जा सकती है। बिहार सरकार शहीदों के परिवार के साथ है।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -