तोगड़िया ने विहिप को अलविदा कहा

गुरुग्राम : विश्व हिन्दू परिषद् के कल 52 वर्ष बाद हुए चुनाव में हारने के बाद प्रवीण तोगड़िया ने नवनिर्वाचित अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष को बधाई देने के बाद विश्व हिन्दू परिषद् को अलविदा कह दिया. तोगड़िया ने कहा कि इस चुनाव में सत्य की हार हुई और असत्य ने सत्ता के बलबूते जीत हासिल की.उन्होंने यह आरोप भी लगाया कि उन्हें वीएचपी को छोडऩे के लिए मजबूर किया गया.

बता दें कि कल गुरुग्राम में हुए विहिप के चुनाव में हिमाचल के पूर्व राज्यपाल रह चुके वीएस कोकजे को विहिप का नया अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष चुन लिया गया.इसके बाद प्रवीण तोगड़िया ने विहिप से किनारा कर लिया. लेकिन उन्होंने हिन्दुओं की लड़ाई आगे भी लड़ने की बात कही .तोगड़िया ने कहा राम मंदिर निर्माण के लिए कानून बनवाना है जो संसद में बनवा कर रहेंगे.

उल्लेखनीय है कि प्रवीण तोगड़िया ने यह आरोप लगाया कि उन्हें कुछ सत्ता के मदमस्तों ने विहिप को छोडऩे के लिए मजबूर किया, क्योंकि वे राम मंदिर को लेकर आवाज़ बुलंद कर रहे थे. तोगड़िया ने कहा वो कुछ ही दिनों बाद उन लोगों को ऑडियो क्लीप भी जारी करेंगे, जिन्होंने उन्हें धमकी दी थी और वीएचपी को छोडऩे के लिए मजबूर किया.प्रवीण तोगडिय़ा ने 17 अप्रैल से अहमदाबाद में अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठने की घोषणा भी की.

यह भी देखें

वीएस कोकजे बने वीएचपी के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष

तोगड़िया और रेड्डी की वीएचपी से होगी विदाई

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -