मध्यप्रदेश में नक़ल करने वालों को होगी जेल

मध्यप्रदेश में नक़ल करने वालों को होगी जेल
Share:

भोपाल: प्रदेश में अब नकलचियों की खैर नहीं. छात्रों में बढ़ते नक़ल के रुझान और नक़ल के नए नए तरीको की खोज के बाद माध्यमिक शिक्षा मंडल नक़ल रोकने हेतु बेहद सख्त कदम उठा चूका है. प्रदेश में हाई स्कूल और हायर सेकेंड्री की परीक्षा के दौरान नकल करते हुए पाए जाने पर परीक्षार्थियों को जेल की हवा भी खाना पड़ सकती है. माध्यमिक शिक्षा मंडल ने इस संबंध में निर्देश भी जारी कर दिए हैं. नकल प्रकरण बनते ही संबंधित थाने में उसकी शिकायत दर्ज की जाएगी और परीक्षार्थी को तीन साल के लिए जेल जाना होगा.

साथ ही सोशल मीडिया पर जारी होने वाली पेपर लीक को लेकर भी मांशिमं की पहरेदारी होगी साथ ही इस हेतु मंडल ने प्रशासन को निगरानी रखने के लिए पत्र लिखा है. गौरतलब है कि 12वीं की परीक्षा एक मार्च से तीन अप्रैल और हाई स्कूल की 5 मार्च से 7 अप्रैल तक होगी. मांशिमं ने 155 परीक्षा केंद्रों को अति संवेदनशील परीक्षा केंद्रों की सूची में रखा है. ये वह परीक्षा केंद्र है, जहां से सबसे ज्यादा नकल के प्रकरण बनाए गए थे. यहां धारा 144 लगाई जाएगी.

इस संबंध में जिलों के कलेक्टरों को पत्र भी लिखकर सुचना दी जा चुकी है. प्रदेश में बढ़ रही नक़ल और परीक्षा  में हो रही धांधली से परेशान हो कर  माध्यमिक शिक्षा मंडल ने ये निर्णय लिया है जिससे आगामी परीक्षाओ में नक़ल को रोका जा सके. 

शिवराज के मंत्री ने कहा रूम में वास्तु दोष है, पहले से विवादित है कक्ष

देश हुआ शिवमय, महांकाल उत्सव समिति की शिव की शाही बारात

पटेल के बाद मीणा आरक्षण की मांग, 18 फ़रवरी को महासम्मेलन

 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -