अंडमान-निकोबार में फंसे हैं पर्यटक, राहत कार्य में परेशानी

Dec 08 2016 12:46 PM
अंडमान-निकोबार में फंसे हैं पर्यटक, राहत कार्य में परेशानी

पोर्ट ब्लेयर : अंडमान और निकोबार क्षेत्र में तूफान और बारिश के चलते पर्यटकों को परेशानी हो रही है। यहां लगभग 1400 से भी अधिक पर्यटकों के फंसे होने की जानकारी मिली है। हालांकि इन्हें निकालने के लिए नौसेना यहां पहुंच चुकी है लेकिन मौसम की खराबी के कारण इन्हें निकाला नहीं जा सका है। हैवलाॅक और नील द्वीप पर अभी भी बड़े पैमाने पर यात्री फंसे हुए हैं।

हालांकि राहत और बचाव दल के बीच यात्री सुरक्षित हैं और केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने हालात को लेकर द्वीप समूह के उपराज्यपाल डाॅ. जगदीश मुखी से चर्चा की है। उन्होंने स्थितियों का जायजा लिया है। केंद्रीय गृहमंत्री ने ट्विट कर कहा कि सरकार ने पर्यटकों को सुरक्षित बाहर निकालने की तैयारी कर ली है। केंद्रीय पर्यटन मंत्री महेश शर्मा ने टूरिस्ट की सुरक्षा और बचाव का आश्वास भी उपस्थितों को दिया है।

अंडमान और निकोबार के नील और हैवलाॅक द्वीप पर बारिश का दौर अभी भी जारी है। हालांकि नौसेना ने पर्यटकों और वहां मौजूद लोगों को बचाने के प्रयास किए हैं और ये लोग सुरक्षित क्षेत्र में हैं लेकिन बारिश से यहां के हालात खराब हैं। उल्लेखनीय है कि मौसम विभाग ने यहां पर 48 घंटे के भीतर चक्रवात का असर बढ़ने की चेतावनी दी थी।

यहां पर करीब 30 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल रही है। राहत दल बचाव कार्य में जुटा हुआ है। गौरतलब है कि यहां पर नौसेना के 4 जहाजों को राहत कार्य के लिए रवाना किया गया था। फंसे लोगों में करीब 800 लोग अधिक क्रिटिकल क्षेत्र में हैं जिन्हें सुरक्षित रखने के इंतजाम किए जा रहे हैं।

हुई दिसंबर की शुरूआत, सर्द मौसम से जनजीवन हुआ प्रभावित

छोटे बच्चो को पहनाये मौसम के अनुसार कपडे

?