शत्रुघ्न घिरे स्थानीय लोगों के बीच, हुआ विरोध

Apr 11 2015 11:16 PM
शत्रुघ्न घिरे स्थानीय लोगों के बीच, हुआ विरोध

पटना : पटना साहिब के सांसद और बॉलीवुड अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा 11 अप्रैल को अपने चुनाव क्षेत्र में ही थे. उन्होंने राजधानी के अशोक नगर में जीरो प्वाइंट पर चल रहे ड्रेनेज सिस्टम के निर्माण कार्य का दौरा किया. और इस दौरान उन्हें स्थानीय लोगों के विरोध का सामना करना पड़ा. लोगो कहना है कि सांसद को ध्यान देना चाहिए कि यहां काम काफी दिनों से फंसा हुआ है. हालांकि शत्रुघ्न ने इस विरोध को ज्यादा महत्व नहीं दिया. उन्होंने कहा कि लोकहित से जुड़े मुद्दों को लेकर उनकी लड़ाई जारी रहेगी.

उनकी तलाश वाले शहर में पोस्टर लगाए जाने के मुद्दे पर बिहारी बाबू ने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी के संबंध में भी इस तरह के पोस्टर लगाए गए थे. राहुल गांधी, सोनिया गांधी, धर्मेंद्र के भी ऐसे पोस्टर लगाए गए. यह ओछी लोकप्रियता के इच्छुक लोगों का काम है. इस दौरान विदेश राज्य मंत्री जनरल वीके सिंह द्वारा दिए गए कथित विवादित टिप्पणी पर भी बिहारी बाबू ने गोलमोल जवाब दिया. सांसद ने कहा कि पिछले साल उन्होंने कहा था कि अगर सरकार ने नहीं किया तो वे अपने फंड से यहां संप हाउस बनाएंगे.

इस संबंध में सरकार से लगातार संपर्क में हैं. प्रधान सचिव स्तर पर पत्राचार किया. पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी से मुलाकात की. उन्होंने भरोसा दिलाया था कि जलजमाव वाले इस इलाके की समस्याओं को दूर करने का प्रयास किया जाएगा. सूबे में राजनैतिक बदलाव होने के बाद यह मामला कहीं दब गया है. हालांकि उनकी लड़ाई इस मुद्दे पर लगातार जारी है. सांसद ने बताया कि उन्हें भरोसा दिलाया गया है कि जो नया ड्रेनेज सिस्टम बनाया जा रहा है, उसके तैयार होने के बाद वह संप हाउस से बेहतर ढंग से काम करेगा.

सारी स्थिति पर वे नजर बनाए हुए हैं. मौके पर विधायक अरुण कुमार सिन्हा ने सांसद को बताया कि उन्होंने इस मुद्दे को दो बार सदन में उठाया. सरकार के मंत्री से इस संबंध में बात की है. विश्वास व्यक्त किया कि सांसद शत्रुघ्न सिन्हा के नेतृत्व में इस समस्या का शीघ्र समाधान होगा. चेतावनी दी कि अगर पेयजल व जलजमाव की समस्या का समाधान नहीं हुआ तो सरकार व नगर निगम को चलने नहीं देंगे.

?