छात्र-शिक्षक अनुपात को सही करने हेतु शुरू होगी स्कूलों की क्लबिंग: रावत

उत्तराखंड के 54 महाविद्यालयों को राष्ट्रीय उच्चतर शिक्षा अभियान (रूसा) के अंतर्गत शामिल किये जाने की कवायद और भी तेज हो गई हैं. इसके लिए अब उत्तराखंड सरकार केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री से अनुरोध करेगी. राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने आज मंगलवार को मुख्यमंत्री आवास स्थित कैम्प कार्यालय में उच्च शिक्षा और माध्यमिक शिक्षा की बैठक की अध्यक्षता की. और शिक्षा विभाग के विभिन्न कार्यों की भी समीक्षा की. 

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि, प्रदेश में विशिष्ट बीटीसी प्रशिक्षण के मान्यता के मामले में भी केंद्र से बातचीत की जाएगी. गुणवत्तापरक शिक्षा प्रदान करने के लिए छात्र-शिक्षक अनुपात को सही करने के लिए स्कूलों की क्लबिंग की जा रही है. मुख्यमंत्री ने कहा कि, सरकार बच्चों को स्कूल तक वाहन से लाने की सुविधा प्रदान करने का प्रयास कर रही है. स्कूलों की क्लबिंग से शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार आएगा.

अपर मुख्य सचिव डॉक्टर रणबीर सिंह ने कहा कि, उत्तराखण्ड में 5वीं और 8वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाएं शुरू की जा रही हैं. यह परीक्षाएं छात्र-छात्राएं परीक्षाएं अपने स्कूलों में देंगे जबकि उनकी कॉपी चेकिंग अन्य स्कूलों में की जाएगी. इस मौके पर शिक्षा मंत्री अरविन्द पाण्डे, महानिदेशक माध्यमिक शिक्षा कैप्टन आलोक शेखर तिवारी, उच्च शिक्षा निदेशक डॉक्टर बीसी मलकानी और शिक्षा विभाग के कई अधिकारी मौजूद रहें. 

JEE MAIN: निशक्त विद्यार्थियों के लिए किये गए बदलाव

केन्द्रीय विद्यालयों की प्रार्थना के खिलाफ याचिका दर्ज

बिजनेस स्कूल में पढ़ाई जाएगी बाहुबली की शौर्य गाथा

जॉब और करियर से जुडी हर ख़बर न्यूज़ ट्रैक पर सिर्फ एक क्लिक में, पढिये कैसे करे जॉब पाने के लिए तैयारी और बहुत कुछ.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -