जेल से रिहा हुआ भीम आर्मी का चीफ 'रावण', बाहर निकलते ही दी योगी सरकार को चेतावनी

जेल से रिहा हुआ भीम आर्मी का चीफ 'रावण', बाहर निकलते ही दी योगी सरकार को चेतावनी

लखनऊ। साल 2017 में उत्तरप्रदेश के सहारनपुर में हुए जातीय दंगों के आरोप में लम्बे समय से जेल में सजा काटने वाले भीम आर्मी के चीफ चंद्रशेखर आजाद को गुरुवार देर रात को रिहा कर दिया गया है। रावण के नाम से प्रसिद्ध चंद्रशेखर ने जेल से बहार आते ही राज्य की योगी सरकार को चेतावनी भी दे दी है। 

अखिलेश ने बीजेपी पर लगाया जातिगत राजनीति करने का आरोप

जेल से रिहा होने के बाद भीम आर्मी के मुखिया चंद्रशेखर आजाद ने राज्य सरकार पर हमला बोलते हुए कहा है कि वे इसे भीम आर्मी की हार न समझे। अभी तो हमारी लड़ाई शुरू हुई है। चंद्रशेखर ने मीडिया संवाददाताओं से बात करते हुए यह भी कहा कि  इस बार  सरकार से सीधे लड़ाई  लड़ेंगे। उन्होंने कहा कि वे और उनके लोग  2019 में बीजेपी को सत्‍ता से उखाड़ फेकेंगे। 


हमारी सरकार ने गन्ना किसानों को बाटे है 35,000 करोड़ रुपए दिए: सीएम योगी

उल्लेखनीय है कि  चंद्रशेखर आजाद उर्फ़ रावण की रिहाई के आदेश योगी सरकार ने ही दिए थे। हलाकि इस बात पर चंद्रशेखर का कहना है कि राज्य सरकार सरकार सुप्रीम कोर्ट के आदेश से डर गई थी इसीलिए सरकार मेरी रिहाई के ओदश देकर  खुद को बचाने की कोशिश रही है। गौरतलब है कि यूपी सरकार ने रावण को आज सुबह रिहा करने के आदेश दिए थे और प्रशासनिक अधिकारी उनकी रिहाई के सम्बन्ध में  असमंजस की स्थिति में थे, परन्तु रात में ही  सहारनपुर जिला जेल के बाहर भीम आर्मी के हजारों कार्यकर्ता इकट्ठा हो गए थे। इस वजह से  प्रशासन को रावण को देर रात ही रिहा करना पड़ा। 

ख़बरें और भी 

स्कूल के बच्चों के साथ वाराणसी में जन्मदिन मनाएंगे पीएम मोदी

मंदिर में हमले की कोशिश नाकाम गिरफ्तार हुआ आतंकी

लोग शुगर से बीमार हो रहे हैं, आप दूसरी फसलें उगाने की भी आदत डालें : सीएम योगी

?