सचिन को याद आए अपने बचपन के दोस्त कांबली

Apr 18 2015 02:38 PM
सचिन को याद आए अपने बचपन के दोस्त कांबली
बचपन के दो गहरे दोस्त जवानी में एक दूसरे से अलग हो गए. जी हाँ हम बात कर रहे है मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर और विनोद कांबली की. 24 फरवरी 1988 को कांबली और सचिन ने शारदाश्रम विद्या मंदिर की ओर से खेलते हुये 664 रन की नाबाद साझेदारी निभाते हुये विश्व रिकॉर्ड बनाया था. इन दोनों की यह साझेदारी उस समय काफी सुर्ख़ियों में रही थी और इस साझेदारी की बदौलत दोनों को एक पहचान मिली थी, लेकिन फिर बाद में दोनों के बीच मनमुटाव आ गया. हालांकि सचिन को हाल ही में एक बार फिर अपने दोस्त विनोद कांबली याद आ गए.

दरअसल सचिन ने इंस्टाग्राम वेबसाइट पर अपनी पोस्ट में एक फोटो अपलोड की, जिसमे कांबली, सचिन और एक युवक ओर नजर आ रहा है. फोटो में कांबली ने सचिन के कंधे से कंधा मिलाया हुआ है. सचिन के अनुसार , "जिंदगी के सबसे बेहतरीन पल स्कूल के दिनों में ही बिताये जाते हैं जिन्हें जीवन भर याद किया जाता है." इसके अलावा कांबली को लेकर सचिन का कहना है कि, "मैं कोई जज नहीं हूं जो किसी की प्रतिभा का आंकलन कर सकूं. हालाँकि ये जरूर कहूँगा कि मेरी और उसकी जीवनशैली बिल्कुल अलग थी. हम दोनों का व्यक्तित्व अलग था."

गौरतलब है कि कांबली ने भारत की और से 104 एकदिवसीय और 17 टेस्ट मुकाबले खेले हैं. कांबली ने सचिन पर आरोप लगाए थे कि जब उनका क्रिकेट कॅरियर अच्छा नहीं चल रहा था तब सचिन ने उनका साथ नहीं दिया, इसके अलावा कांबली को सचिन से यह भी शिकायत थी कि सचिन ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने के समय अपने विदाई भाषण के दौरान एक बार भी उनका नाम नहीं लिया.


?