IPL-8 : राजस्थान की रॉयल की जीत, मुंबई की तीसरी हार

Apr 14 2015 07:11 PM
IPL-8 : राजस्थान की रॉयल की जीत, मुंबई की तीसरी हार
राजस्थान रॉयल्स ने मंगलवार को सरदार पटेल स्टेडियम में हुए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आठवें संस्करण के नौवें मैच में मुंबई इंडियंस को सात विकेट से हरा दिया। मुंबई से मिले 165 रनों के लक्ष्य को रॉयल्स ने अजिंक्य रहाणे (46) और कप्तान स्टीव स्मिथ (नाबाद 79) की नायाब पारियों की बदौलत पांच गेंद शेष रहते हासिल कर लिया। इसके साथ ही रॉयल्स ने आईपीएल-8 में अपने अब तक के तीनों मैच जीत लिए और अंकतालिका में शीर्ष पर पहुंच गई। दूसरी ओर मुंबई इंडियंस अपने तीनों मैच हारकर सबसे निचले पायदान पर जमी हुई है। मैन ऑफ द मैच रहे स्मिथ ने अपनी नायाब पारी में 53 गेंदों का सामना कर आठ चौके और एक छक्का लगाया और आईपीएल-8 में सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में शीर्ष पर पहुंच गए।

लक्ष्य का पीछा करने उतरे रॉयल्स कभी भी परेशानी में नजर नहीं आए। सलामी बल्लेबाज रहाणे ने संजू सैमसन (17) के साथ 28 रनों की साझेदारी की। सैमसन ने अपनी छोटी सी पारी में तीन चौके लगाए और विनय कुमार की गेंद पर रोहित शर्मा के हाथों लपके गए। इसके बाद रहाणे और स्मिथ ने सधे हुए अंदाज में रॉयल्स की पारी को आगे बढ़ाना शुरू किया और दूसरे विकेट के लिए 64 रन जोड़े। श्रेयष गोपाल द्वारा लाए 14वें ओवर की पहली गेंद पर रहाणे तेज शॉट लगाने के प्रयास में कोरी एंडरसन के हाथों लपके गए और अपने अर्धशतक से चार रन दूर रह गए। रहाणे ने इस बीच 39 गेंदों का सामना कर चार चौके लगाए। इसके बाद मैदान पर आए पिछले मैच में रॉयल्स की जीत के नायक रहे दीपक हुडा (13) ने श्रेयष के इसी ओवर की आखिरी दो गेंदों पर लगातार दो छक्के लगाए।

हालांकि वह अगले ही ओवर में लसिथ मलिंगा की गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए। 15वें ओवर की आखिरी गेंद पर जेम्स फॉल्कनर (नाबाद 6) जब मैदान पर उतरे तो रॉयल्स को आखिरी के पांच ओवरों में जीत के लिए 52 रन चाहिए थे। स्मिथ ने हालांकि फॉल्कनर के साथ चौथे विकेट के लिए नाबाद साझेदारी कर टीम को आसान जीत दिला दी। मुंबई के लिए विनय कुमार ने काफी कसी हुई गेंदबाजी की और तीन ओवरों में 13 रन देकर एक विकेट हासिल किया। हालांकि अन्य कोई भी गेंदबाज प्रभावित नहीं कर सका। मुंबई को निश्चित तौर पर अपने दिग्गज स्पिन गेंदबाज हरभजन सिंह की कमी खली। इससे पहले, टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने उतरे मुंबई इंडियंस ने निर्धारित ओवरों में पांच विकेट खोकर 164 रन बनाए। मुंबई एक समय 13 ओवरों में तीन विकेट पर मात्र 61 रन बना सकी थी।

इसके बाद हालांकि कोरी एंडरसन (50) और कीरन पोलार्ड (70) के बीच चौथे विकेट के लिए हुई 104 रनों ताबड़तोड़ साझेदारी के बल पर मुंबई ने आखिरी के सात ओवरों में 103 रन जोड़े। पोलार्ड ने बेहद आक्रामक अंदाज में खेलते हुए 34 गेंदों का सामना कर सात चौके और पांच छक्के लगाए, जबकि एंडरसन ने 38 गेंदों की अपनी पारी में पांच चौके और तीन छक्के जड़े। सलामी बल्लेबाज एरॉन फिंच (नाबाद 10) बाएं पैर की मांसपेशी में खिंचाव के चलते रिटायर्ड हर्ट हो गए, जबकि कप्तान रोहित शर्मा खाता खोले बगैर स्टुअर्ट बिन्नी की गेंद पर स्टीव स्मिथ को कैच थमा पवेलियन लौटे। पार्थिव पटेल (16) और उन्मुक्त चंद (12) भी कुछ खास नहीं कर सके।

मुंबई के 9.5 ओवरों में 45 रनों पर तीन विकेट गिर चुके थे। लेकिन इसके बाद पोलार्ड ने एंडरसन के साथ 104 रनों की साझेदारी कर टीम को बेहतर स्थिति में पहुंचाया। पोलार्ड 19वें ओवर की आखिरी गेंद पर करुण नायर के हाथों कैच आउट हुए, जबकि एंडरसन 37 गेंदों में अर्धशतक पूरा करने के ठीक बाद आखिरी ओवर की पांचवीं गेंद पर क्रिस मोरिस की गेंद पर क्लीन बोल्ड हुए। इस बीच मुंबई के लिए धवल कुलकर्णी, स्टुअर्ट बिन्नी और दीपक हुडा ने बेहद कसी हुई गेंदबाजी की। कुलकर्णी ने अपने तीन ओवरों के स्पेल में 15 रन दिए और एक विकेट हासिल किया, जबकि दो ओवरों की गेंदबाजी में बिन्नी ने सिर्फ आठ रन लुटाए और एक विकेट हासिल किया। हुडा ने सिर्फ एक ओवर फेंका और तीन रन दिए। टिम साउदी, क्रिस मोरिस और प्रवीण तांबे को भी एक-एक विकेट मिला।
?