पर्यटक की मौत पर बिफरे पीडीपी विधायक

नई दिल्ली : पत्थरबाजों ने कश्मीरियत को शर्मसार कर दिया और हमारे माथे पर लिख गया कि हम बेगुनाहों के कातिल हैं, इतना बड़ा बयान कश्मीर के पीडीपी के विधायक यासिर रेशी ने देकर जैसे कश्मीर वालों को आईना दिखा दिया है. एक तमिल पर्यटक बालक की मौत से पीडीपी विधायक इतने बिफर गए कि उन्होंने हुर्रियत के नेताओं को भी नहीं बक्शा.

बता दें कि प्रेस के सामने पीडीपी के विधायक यासिर रेशी ने कई सवाल उठाते हुए कहा कि आखिर क्या बिगाड़ा था उस बच्चे (थिरुमनी) ने? उसका कसूर क्या था? क्या यही जेहाद है? क्या यही है तहरीके आजादी? क्या अगर एजेंडा ऑफ एलायंस लागू नहीं होगा तो हम बेगुनाहों को मारेंगे? यासिर ने यहां तक कह दिया कि “हमने उसे ही मार दिया जो हमें रोजगार देने आया था. हमारे माथे पर लिख गया कि हम कातिल हैं .इस मौके पर उन्होंने हुर्रियत नेताओं को भी घेरते हुए कहा कि खुद को लीडर कहने वाले अन्य लोग यह सोचे कि हमारे बच्चे कहां जा रहे हैं? हम पत्थरबाजों को बेगुनाह कैसे कह सकते हैं ?

उल्लेखनीय है कि इसके पूर्व स्कूली बस पर पत्थर बरसाकर बच्चों को जख्मी करने की घटना भी हुई थी. उसका जिक्र कर विधायक रेशी ने कहा कि तब सही प्रतिक्रिया होती तो 22 वर्षीय थिरुमनी को पत्थरबाजों का निशाना नहीं बनना पड़ता. थिरुमनी की हत्या पर सीएम महबूबा मुफ्ती को कहना पड़ा कि उनका सिर शर्म से झुक गया है.स्मरण रहे कि ऐसे ही हालातों से 12 साल पहले तत्कालीन सीएम गुलाम नबी आजाद भी गुजर चुके हैं जब आतंकियों ने श्रीनगर के पास जकूरा में गुजरात से आए चार पर्यटकों की हत्या कर दी थी.तब आजाद भी वैसे ही लाचार खड़े थे , जैसे सीएम मेहबूबा खड़ी थी.पर्यटक कश्मीरियों की रोजी-रोटी चलाने में मदद करते हैं, उन पर हमला करके अपने ही पैरों पर कुल्हाड़ी मार कर कश्मीर को नीचा दिखा दिया है. 

यह भी देखें

एकतरफा युद्धविराम की पहल करे केंद्र- महबूबा मुफ्ती

कश्मीर में पर्यटक की हत्या पर उमर अब्दुल्ला ने अफ़सोस जताया

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -