तेलंगाना चुनाव में हो रहा काले जादू का भरपूर इस्तेमाल, भारी मात्रा में हो रही उल्लुओं की तस्करी

तेलंगाना चुनाव में हो रहा काले जादू का भरपूर इस्तेमाल, भारी मात्रा में हो रही उल्लुओं की तस्करी

हैदराबाद: भारत में चुनाव के दौरान अधिकारी आम तौर पर ऐसे बेशकीमती सामान की तस्करी रोकने में व्यस्त रहते हैं जिन्हें वोटरों को प्रलोभन देने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। लेकिन कर्नाटक के अधिकारी इन दिनों पड़ोसी राज्य तेलंगाना में की जा रही उल्लुओं की तस्करी रोकने में जुटे हैं। 

मध्यप्रदेश चुनाव: कांग्रेस को वोट दिया तो भाजपा प्रत्याशी ने कर दी दलित युवक की पिटाई

यहां बता दें कि तेलंगाना में शुक्रवार को विधानसभा चुनाव के लिए मतदान होना है। वहीं बता दें कि कर्नाटक पुलिस और वन अधिकारियों को कम से कम छह लोगों ने जानकारी दी है कि भारतीय उल्लू की एक प्रजाति की तेलंगाना में बहुत मांग है। इसके साथ ही उल्लुओं की मांग इनकी खूबियों के लिए नहीं बल्कि इस वजह से है कि उल्लू के शरीर के हिस्से विरोधी उम्मीदवार के लिए दुर्भाग्य की वजह बन सकते हैं। 

असम: पंचायत चुनाव में पहले चरण का मतदान जारी

गौरतलब है कि कर्नाटक के कलबुर्गी ज़िले के सेडम की पुलिस ने बीबीसी को बताया कि उन छह लोगों में से दो ने लोगों ने बागलकोट ज़िले के जामखंडी में दो पक्षियों को इस दौरान बेचने के लिए ही पाला है। इन सभी को सेडम से गिरफ़्तार किया गया है। बता दें कि ये इलाका तेलंगाना की सीमा से लगा हुआ है। तेलंगाना में शुक्रवार 7 दिसंबर को 119 सदस्यीय विधानसभा के लिए मतदान होना है। इसके अलावा कलबुर्गी में वन विभाग के सहायक वन संरक्षक रामकृष्ण यादव ने बताया तेलंगाना से एक व्यक्ति ने उनसे फ़ोन पर संपर्क किया था। उसने इन लोगों को बताया था कि विरोधी उम्मीदवार पर काला जादू करने के लिए उल्लू की ज़रूरत है।


खबरें और भी

ईवीएम पर उठते सवालों पर उमा भारती ने तोड़ी चुप्पी, चुनाव आयोग को दी हिदायत

राजस्थान चुनाव: हेलीकाप्टर घोटाले पर पीएम ने कांग्रेस को घेरा, कहा माँ-बेटे को अदालत तक खींच लाया अब कैसे बचेंगे ?

उमा भारती ने बताया 'आखिर क्यों नहीं लड़ेंगी लोकसभा चुनाव'