सोना धारण करने से ऐसे प्रभावित होता है जीवन

सोना एक मूल्यवान धातु है, जिसको धारण करने की इच्छा हर व्यक्ति के मन में होती है, लेकिन क्या आप जानते है की वास्तु शास्त्र में सोना धारण करने के कुछ नियम और प्रभाव होते है, जिसका असर आपके जीवन पर पड़ता है. आइये जानते है की सोना किस प्रकार आपके जीवन को प्रभावित करता है.

दाम्पत्य जीवन में सोना 
जब किसी व्यक्ति के दाम्पत्य जीवन में अशांति एवं दुःख होता है, तो उन व्यक्तिओं को अपने गले में सोने की चेन धारण करना चाहिए या हाँथ की तर्जनी ऊँगली में सोने की अंगूठी पहनने से आपके दाम्पत्य जीवन में सुख शान्ति और सम्रद्धि आती है.

कमर में सोना धारण न करें 
कमर में सोना धारण करने से व्यक्ति को कई प्रकार के रोगों से ग्रसित होना पड़ सकता है, इसलिए कभी भी कमर में सोना नहीं पहनना चाहिए.

सोने का ऊर्जा से सम्बन्ध 
सोने को ऊष्मा का प्रतीक माना जाता है, इसकी प्रकृति गर्म होती है, यदि व्यक्ति सर्दी जुकाम और सांस सम्बन्धी रोगों से परेशान है तो उसे अपनी कनिष्क ऊँगली में सोने की अंगूठी धारण करने से लाभ प्राप्त होता है.

स्वास्थ से सम्बंधित सोना
व्यक्ति को अपने स्वास्थ एवं स्वभाव के अनुसार सोना धारण करना चाहिए. जो व्यक्ति अधिक मोटा होता है उसे सोना पहनने से बचना चाहिए और जिन व्यक्तियों को अधिक गुस्सा आता है उन्हें भी सोना धारण करने से परहेज करना चाहिए.

सोना और लोहा से सम्बन्ध 
जो व्यक्ति लोहा और कोयला से सम्बंधित व्यापार या व्यवसाय करते है उन्हें सोना धारण नहीं करना चाहिए. इससे उनके कार्य में धन हानि होने की सम्भावना होती है.

 

उबालते समय दूध अगर बह जाये तो समझ लें की....

जानें घर में कांटेदार पौधों का होना शुभ फल देता है या अशुभ

किचन में खाना खाने की आदत है तो जल्दी से इसे त्यागे वरना....

अगर आपके भी घर में तोता है तो समझ लें की....

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -