जयललिता खतरे से बाहर, दुआओं का सिलसिला जारी

चेन्नई : जयललिता को रविवार को 3 बजे दिल का दौरा पड़ा था तभी से उन्हे चैन्नई के अपोलो हाॅस्पिटल में भर्ती कराया गया था और उनके इलाज के लिए विदेश से डाॅक्टर्स की टीम को भी बुलाया गया. अब इस मामले में बात सामने आ रही है कि उनकी हालात नाजुक है, लेकिन अच्छी बात यह है कि उनकी हालात खतरे से बाहर है. हाल ही में स्वास्थमंत्री JP नड्डा से एक समाचार चैनल से बातचीत में कहा कि, 'जयललिता की हालात की हालात खतरे से बाहर है. हम अपोलो अस्पताल के लगातार संपर्क में हैं. एम्स से डॉक्टरों की टीम अपोलो जाएगी.'

गौरतलब है कि जयललिता के दिल के दौरे की खबर जैसे ही लोगों को लगी तो उनके चाहने वालों की भीड़ लग गई और भीड़ को देखते हुए जवानों द्वारा हाॅस्पिटल के चारों और सिक्योरिटी बढ़ा दी गई है. राज्यपाल विद्यासागर राव भी अपोलो हास्पिटल पहुंचे. और जयललिता की सेहत की जानकारी लेकर अस्पताल से बाहर निकलें. राज्यपाल लगभग 10 मिनट तक अस्पताल में रहे. जयललिता के चाहने वाले लगातार उनके अच्छे होने की कामना कर रहे हैं और अस्पताल के बाहर भीड़ की संख्या भी बढ़ती जा रही है हर तरफ से सुरक्षा की दृष्टि से भी अस्पताल की सुरक्षा भी बढ़ा दी गई है.

मुख्य्ममंत्री जयललिता के दिल का दौरा पड़ने की खबर के बाद राजनीतिक जगत में भी चिंता व्याप्त हो गई है. उनके शीघ्र स्वस्थ होने के लिए दुआओं का दौर शुरू हो गया है. राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने ट्वीट कर कहा कि सीएम जयललिता की हार्ट अटैक पड़ने की खबर से व्यथित हूं, जबकि केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू ने कहा कि सीएम जयललिता की गंभीर हालत के बारे में जानकर दुखी हूं और प्रार्थना है कि वे जल्द स्वस्थ हो जाएं. वहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने जयललिता के स्वास्थ्य के प्रति चिंतित होते हुए उनके ठीक होने की प्रार्थना की.

अस्पताल मे जयललिता के चाहने वालों की भारी भीड़ को देखते हुये डीजीपी ने सख्त आदेश देते हुये कहा है कि सारे अधिकारी अभी रिपोर्ट करें अपने कमिश्नर और SP को. तत्काल मे डीजीपी ने बैठक बुलाई और अस्पताल की सुरक्षा बढ़ा दी है और सारे आला अफसरो को आदेश दिया है कि वो अस्पताल पर नज़र बनाए रखे और अपने कमिश्नर और एसपी को रिपोर्ट करते रहें. बता दें की तमिलनाडू की मुख्यमंत्री जयललिता 22 सितम्बर से ही अपोलो हाॅस्पिटल में भर्ती है.

जयललिता के लिए की जा रही हैं दुआएं

अम्मा के समर्थकों की भीड़ ने अस्पताल का गेट और दीवारें तोड़ी, हाई अलर्ट जारी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -