इटली के जेनोआ शहर में पुल ढहने से 39 की मौत

इटली के जेनोआ शहर में पुल ढहने से 39 की मौत

रोम : दुनिया में हादसों का सिलसिला जारी है और कहीं ना कहीं लोग हादसों से अपनी जान गँवा ही रहे हैं. ऐसे ही इटली के बंदरगाह शहर जेनोआ में एक पुल ढहने की घटना सामने आई है जिसमें कई लोगों की मौत हो गई है. खबरों की मानें तो पल ढहने से मृतकों की संख्या 38 हो चुकी है. इसकी जानकारी गृह मंत्री मात्तेओ साल्विनी ने दी है. इसके अलावा उन्होंने दक्षिणी क्षेत्र कलाब्रिया में एक कार्यक्रम बताया कि 'हम इस समय 39 लोगों की मौत होने और कुछ लोगों के लापता होने की पुष्टि करते हैं.'

पादरियों पर हज़ारों बच्चों से यौन शोषण करने का आरोप- अमेरिका की रिपोर्ट

वहीं उप-प्रधानमंत्री लुईगी डी मेइओ ने कहा कि इस हादसे को टाला जा सकता था. गृह मंत्रालय ने इसकी जानकारी दी है कि 16 लोग घायल हुए है जिनमें से 12 लोग गंभीर रूप से घायल है. इसी हादसे के बाद वहां एमर्जेन्सी की घोषणा कर दी है. बताया जा रहा है कि इटली का ये पुल करीब 50 साल पुराण था जिसका नाम मरांडी ब्रिज है जो एक टोल हाईवे था. इस बीच सरकार ने हादसे के लिए देश की मोटरवेज की प्रभारी कंपनी को जिम्मेदार ठहराया है. साल्विनी ने बताया कि हादसे में मारे गए लोगों में आठ, 12 और 13 वर्ष के बच्चें भी शामिल हैं और कुछ लापता भी हैं.

जानकारी के लिए बता दें, लापता लोगों की खोज अब भी जारी है और सरकार इस पर कहती है कि इस स्थिति में ये संभव नहीं है कि इस पुल के गिरने से कोई भी ठोस कारण बताया जाए. सूत्रों का कहना है कि ये बाढ़ के कारण हुआ है क्योंकि नदी का पानी पुल तक आ चुका था जिसके कारण ये बाढ़ आई और ब्रिज टूट गया.

खबरें और भी..

78 घुसपैठिए फ्रिज में छुपकर कर रहे थे अमेरिका में घुसने की कोशिश, पकड़ाए

जापान में पुलिस थाने से जूते चुराकर भागा बदमाश, अब ढूंढ रहे 3000 पुलिसवाले

 

?