अमेरिका: भारतीय मूल के व्यक्ति पर रिश्वत का आरोप, अदालत ने सुनाई 10 साल की सजा

Aug 07 2018 06:02 PM
अमेरिका: भारतीय मूल के व्यक्ति पर रिश्वत का आरोप, अदालत ने सुनाई 10 साल की सजा

वाशिंगटन: अमेरिका में एक भारतीय मूल के व्यक्ति को रिश्वत लेने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया है. 67 वर्षीय भास्कर पटेल को यूएस सरकार की इमारतों में ऊर्जा बचत परियोजनाओं पर काम करने के लिए अनुबंध मांगने वाली कंपनियों से रिश्वत और 'किकबैक' में 2.5 मिलियन अमेरिकी डॉलर लेने के आरोप में दोषी ठहराया गया है. 

इमरान के ये 5 चहेते, पा सकते हैं उनके कैबिनेट में जगह

भास्कर श्नाइडर इलेक्ट्रिक बिल्डिंग अमेरिका में एक वरिष्ठ परियोजना प्रबंधक के पद पर कार्य कर रहा था. वो ऊर्जा बचत परियोजना के लिए कॉन्ट्रैक्टर से टेंडर प्राप्त करते था और कॉन्ट्रैक्ट का चयन भी उसी के जिम्मे था. रुतलैंड में संघीय अदालत में पिछले साल 7 दिसम्बर से इस मामले पर सुनवाई चल रही थी, अदालत ने भास्कर को 2 आरोपों में दोषी पाया है.

पाकिस्तान की नई सरकार सिंधु जल विवाद पर विश्व बैंक की शरण में

प्रत्येक में 10 साल कैद की सजा सुनाई गई है,  एक याचिका समझौते के तहत, संघीय अभियोजकों ने पटेल से 2,536,119 अमरीकी डॉलर जुर्माने की मांग की है. याचिका समझौते में कहा गया है कि अभियोजन पक्ष जुर्माने राशि को 1.75 मिलियन अमेरिकी डॉलर तक कम करने पर सहमत हैं, यदि पटेल सजा से पहले 950,000 का भुगतान कर दें. हालाँकि, मामले की सुनवाई कर रहे न्यायाधीश जेफरी क्रॉफर्ड ने कहा है कि सजा से पहले एक बार फिर मामले की जांच की जाएगी. 

खबरें और भी:-

इस गाँव में चाय तो दूर की बात है दूध भी नहीं मिलता

सैकड़ों आशिक लड़ते रहें और माशूका नए के साथ फरार हो गई

मैक्सिको के राष्ट्रपति ने ट्रम्प को दिया करारा जवाब

 

?