विश्व सीरीज मुक्केबाजी में चमके भारतीय मुक्केबाज

 

दिल्ली: राजीव गांधी खेल स्टेडियम में विश्व सीरीज मुक्केबाजी में शनिवार को भारतीय टीम इंडियन टाइगर्स  कजाकस्तान की टीम अस्ताना आर्लन्स से 2-3 से हार गई लेकिन रोहतक के संजीत और मणिपुर के 17 साल के मुक्केबाज मोहम्मद इतास खान ने अपने खेल से सभी का दिल जीत लिया.

भारतीय मुक्केबाजी महासंघ बीएफआई द्वारा इंडियन टाइगर्स टीम के लिए खेल रहे इन दो मुक्केबाजों ने आर्लन्स टीम के अनुभवी मुक्केबाजों के खिलाफ शानदार खेल दिखाया और शानदार जीत हासिल की. भारत के अन्य तीन मुक्केबाजों ने भी अच्छा खेल दिखाया लेकिन वे कई कोशिशों के बाद भी तीन बार के चैम्पियन कजाक मुक्केबाजों के अनुभव के आगे नहीं टिक सके. भारतीय टीम को दिन के पहले मुकाबले में हार मिली थी लेकिन दूसरे मुकाबले में जीत के साथ उसने शानदार वापसी की और स्कोर 1-1 कर दिया. इसके बाद तीसरे मुकाबले में भी उसे हार मिली.

 चौथा मुकाबला भारतीय टीम फिर हार गई लेकिन पांचवें मुकाबले में संजीत ने शानदार जीत के साथ टीम को 2-3 के सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया. चौथे मैच में आशीष की हार के साथ यह हेवीवेट मुकाबला महज औपचारिकता रह गया था लेकिन संजीत ने इसे रोचक बना दिया. शनिवार को मैच में ग्रुप सी का पहला मैच लाइट फ्लाइ कटेगरी 46-49 किग्रा में इंडियन टाइगर्स के श्याम कुमार काकरा का सामना अस्ताना अरलैंस के तेमिरास झुसुपोव से हुआ. इसमें काकरा ने बेहतरीन खेल दिखाया, लेकिन वह अनुभवी झुसुपोव के अनुभव के आगे हार गए.

अब बुमराह हुए प्रेम में गुमराह, इस अदाकारा से जुड़ा नाम

इस खिलाड़ी ने ठोंके 49 गेंदों में 124 रन

आस्ट्रेलियाई खिलाडी ने कप्तान के कहने पर की गेंद से छेड़छाड़

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -