भारत का इकलौता चमत्कारी मंदिर जहां चढ़ाए जाते है पत्थर

आपने ऐसे कई मंदिर, मस्जिद देखे होंगे जहां फूल माला चढ़ाकर अपनी मुरादे मांगी जाती है. लेकिन एक मंदिर ऐसा है, जहां लोग दूर-दूर से आकर फूल माला की जगह भगवान को पत्थर चढ़ाते है. जी हाँ दोस्तों यह मंदिर भारत के दक्षिण में स्थित है, यहाँ पर लाखो भक्तों की भीड़ मिठाई, फूल, माला की बजाय हाथों में पत्थर लेकर यहाँ दर्शन करने के लिए आते है और पत्थर चढ़ाते है. ऐसा कहा जाता है कि इस मंदिर में भगवान को फूल माला चढ़ाने की जगह अगर पत्थर चढ़ाते है, तो भगवान जल्दी प्रसन्न होते है, और मुरादे पूरी करते है.

दरअसल यह मंदिर बेंगलुरु-मैसूर नैशनल हाइवे के मांड्या शहर में बना हुआ है. किरागांदुरू-बेविनाहल्ली रोड पर बना कोटिकालिना काडू बसप्पा मंदिर पर पत्थर चढ़ाए जाने के कारण यह प्रसिद्ध है. यहाँ के स्थानीय लोगो का कहना है कि इस मंदिर में पूजा करने के लिए न ही लाइन लगाना पड़ता है और न ही किसी पंडित से पूजा करवाना पड़ता है. इस मंदिर में जो भी आता है, उसे अपनी पूजा स्वयं करनी पड़ती है, अगर आप भी इस मंदिर में दर्शन करने के लिए जाए तो आपने हाथों में पत्थर जरुर लेकर जाए लेकिन इस बात का विशेष तौर पर ध्यान रखें कि आप 3 या 5 पत्थर ही भगवान को अर्पित करें.

इस बात का भी ध्यान रखें, कि इस मंदिर में आने के बाद जिस भक्त कि मुरादे पूरी हो जाती है, वह अपने घर, जमीन या खेत से पत्थर के टुकड़े लाकर इस मंदिर में अर्पित करके भगवान का शुक्रिया अदा करता है. अगर आपकी भी इस मंदिर में जाने के बाद मुरादे पूरी हो जाए तो आप भी भगवान का शुक्रिया अदा करना न भूलें.

माता के चरणों से उत्पन्न हुआ है ये शक्तिपीठ

तो इसी वजह से देखने को नहीं मिलता ब्रह्मदेव का मंदिर

पुष्कर के अलावा कहीं नही है ब्रम्ह देव का दूसरा मंदिर, जानिए वजह

रणजीत सिंह द्वारा निर्मित यह मंदिर सभी गुप्त रोगों से मुक्ति दिलाता है

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -