ऐसे पता लगाएं असली और नकली चार्जर में अंतर

नए स्मार्टफोन में हमे चार्जर तो मिलता ही है लेकिन कभी-कभी यूजर को चार्जर खो जाने के कारण नया चार्जर भी लेना पड़ता है. ऐसे में हमारी सबसे बड़ी दुविधा यही रहती है कि असली और नकली चार्जर के बीच अंतर पता कैसे किया जाए.  

हम उदाहरण के लिए सैमसंग के चार्जर की बात करें तो बाजार में सैमसंग स्मार्टफोन के भी कई नकली चार्जर मिल रहे हैं. दअरसल असली और नकली दोनों ही चार्जर में बहुत ही छोटा सा अंतर होता है. ज्यादातर नकली चार्जर पर मेड इन चाइना लिखा होता है. अगर आप ध्यान देंगे तो आपको नकली चार्जर में कंपनी का नाम भी गलत लिखा हुआ नजर आएगा. इसके लिए हमे चार्जर के कलर और  लोगो पर भी ध्यान देना चाहिए. 

नकली चार्जर से हमें इसलिए भी बचना चाहिए क्योंकि इससे हमारे फोन के खराब होने का भी खतरा बना रहता है. नकली चार्जर कम कीमत में तो उपलब्ध हो जाते हैं लेकिन बाद में ये हमे पड़ा परेशान करते हैं. नकली चार्जर से फोन को चार्ज करने के दौरान कई तरह की समस्या भी सामने आती है जैसे बैटरी कभी जल्दी चार्ज हो जाती है तो कभी धीरे चार्ज होने लगती है. 

वीडियो: गेम खेलने पर एयरटेल दे रहा 2 करोड़ का इनाम

अच्छे प्रोसेसर के साथ आ रहे हैं ये लैपटॉप

स्मार्टफोन में बढ़ रहा है यूएसबी टाइप सी का चलन

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -