ताज महल की बदहाली के चर्चे विदेशो में

Jan 04 2018 07:33 PM
ताज महल की बदहाली के चर्चे विदेशो में

ताज पर सबसे ज्यादा पर्यटक अमेरिका और ब्रिटेन से अाते हैं. अमेरिका पर्यटकों की हिस्सेदारी 17 फीसदी और ब्रिटिश पर्यटकों की संख्या 15 प्रतिशत है. मगर अमेरिकन ट्रेवल वेबसाइट फोडर्स डॉट कॉम ने 10 स्थलों को 2018 में घूमने लायक नहीं बताया है. इसमें ताज तीसरे नंबर पर है, जबकि चीन की दीवार 9वें नंबर पर है. ताजमहल पर प्रदूषण के कारण पीले पन और मडपैक ट्रीटमेंट की जानकारी पर्यटकों को दी गई है. वहीं चीन की दीवार के लिए स्मॉग और प्रदूषण का रेड अलर्ट वजह बताया है.

20 जनवरी से सैलानियों का प्रवेश सीमित कर दिया जाएगा. केवल 40 हजार सैलानी ही रोज प्रवेश करेंगे. ताज का टिकट स्मारक के गेट खुलने से आधा घंटे पहले मिलने शुरु होंगे और शाम को 1 घंटा पहले टिकट काउंटर बंद हो जाएंगे, ताकि पर्यटक टिकट लेने के बाद आसानी से प्रवेश कर पाएं. ताज पर सैलानियों की संख्या में हर दिन 40 हजार तक सीमित करने और गुंबद के लिए अलग से टिकट लगाने के प्रस्ताव पर अगर अमल किया तो यहां 40 लाख सैलानियों की संख्या कम हो जाएगी.

ताज पर 2 साल बाद 2017 में सैलानियों की संख्या बढ़ी थी. करीब 1.80 करोड़ पर्यटकों ने इस अजूबे को निहारा था, लेकिन नए प्रस्ताव के मुताबिक हर साल अधिकतम 1.46 करोड़ सैलानी ही ताज देख सकेंगे.

पत्नी संग ताजमहल पहुंचे विवेक ओबेरॉय

ताज को चमकाने के लिए दिया जाएगा स्टीम बाथ

ये है दुनिया के सबसे खूबसूरत टूरिस्ट पल्स

 

?