रोमांचक मैच में दिल्ली डेयरडेविल्स की आसान जीत

Apr 18 2015 04:23 PM
रोमांचक मैच में दिल्ली डेयरडेविल्स की आसान जीत
विशाखापट्टनम: दिल्ली डेयरडेविल्स टीम ने शनिवार को वाईएस राजशेखर रेड्डी एसीए वीडीए क्रिकेट स्टेडियम में सनराइजर्स हैदराबाद के साथ जारी इंडियन प्रीमियर लीग के 13वें लीग मैच में टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने का फैसला किया है। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए डेयरडेविल्स ने निर्धारित 20 ओवरों में चार विकेट के नुकसान पर 167 रन बनाए। 

सनराइजर्स को आखिरी दो गेंदों पर सात रनों की जरूरत थी और सामने स्ट्राइक पर कर्ण शर्मा (19) थे। ओवर की पांचवी गेंद पर कर्ण ने एक मिड विकेट पर एक गगनचुंबी शॉट जड़ दिया। डेयरडेविल्स के मयंक अग्रवाल ने हालांकि यहां हवा में उछलते हुए न केवल एक संभावित छक्का रोका बल्कि मैच भी बचा ले गए। रोमांचक मुकाबले में सनराइजर्स हैदराबाद को चार रनों से हरा दिया। आखिरी गेंद पर सनराइजर्स को पांच रन चाहिए थे और कर्ण शर्मा छक्का मारने के प्रयास में एंजेलो मैथ्यूज को कैच दे बैठे। सनराइजर्स के सामने जीत के लिए 168 रनों का लक्ष्य था और टीम निर्धारित 20 ओवरों में आठ विकेट के नुकसान पर केवल 163 रन बना सकी।

डेयरडेविल्स की ओर से ज्यां पॉल ड्यूमिनी ने सर्वाधिक चार सफलताएं हासिल की। नैथन कोल्टर नील, एंजेलो मैथ्यूज और इमरान ताहिर को एक-एक विकेट मिला। सनराइजर्स की शुरुआत हालांकि अच्छी रही और सलामी बल्लेबाज शिखर धवन तथा कप्तान डेविच वार्नर ने पहले विकेट के लिए 6.1 ओवरों में 50 रन जोड़े। सातवें ओवर में ड्यूमिनी ने हालांकि पहले धवन और फिर वार्नर को आउट कर डेयरडेविल्स की उम्मीदें जगा दी। दोनों के पवेलियन लौटने के बाद लोकेश राहुल (24) और रवि बोपारा (41) ने तीसरे विकेट के लिए 38 रनों की साझेदारी की। राहुल के बाद बल्लेबाजी करने आए प्रज्ञान ओझा (12) के साथ भी बोपारा ने महत्वपूर्ण 31 रनों की साझेदारी की। इसके बाद अगले नौ रनों में डेयरडेविल्स के गेंदबाजों ने दो विकेट झटक कर सनराइजर्स की मुश्किलें बढ़ा दी। 

आशीष रेड्डी (15) और कर्ण ने सातवें विकेट के लिए 30 रन जुटा कर मैच को एक बार फिर सनराइजर्स की ओर मोड़ने की कोशिश की। रेड्डी मैच के आखिरी ओवर की दूसरी गेंद पर रनआउट हुए। इससे पूर्व टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए डेयरडेविल्स ने निर्धारित 20 ओवरों में चार विकेट के नुकसान पर 167 रन बनाए थे। पहले दो ओवरों में दो चौके लगाकर श्रेयष अय्यर (60) ने डेयडेविल्स को उम्मीद के मुताबिक शुरुआत दिलाई। उनके साथ हालांकि पारी की शुरुआत करने आए मयंक (1) केवल तीन गेंदों का सामना कर मैच के तीसरे ओवर की पहली गेंद पर पवेलियन लौट गए। मयंक के पवेलियन लौटने के समय टीम के खाते में केवल 15 रन जुड़े थे। उनका विकेट भुवनेश्वर कुमार ने हासिल किया। 

इसके बाद बल्लेबाजी करने उतरे कप्तान ज्यां पॉल ड्यूमिनी (54) ने अय्यर के साथ दूसरे विकेट के लिए 56 गेंदों में 78 रनों की साझेदारी कर टीम को मजबूत आधार दिया। प्रवीण कुमार ने यहां 12वें ओवर में अय्यर को डेविड वार्नर के हाथों कैच कराकर डेयरडेविल्स को दूसरा झटका दिया। इसके बाद ड्यूमिनी ने युवराज के साथ और 39 रन जोड़े। इससे पहले कि यह जोड़ी खतरनाक साबित होती, 16 ओवर की आखिरी गेंद पर डेल स्टेन ने ड्यूमिनी को बोल्ड कर सनराइजर्स को तीसरी सफलता दिला दी। अगले ही ओवर की पहली गेंद पर युवराज भी वार्नर को कैच थमाकर पवेलियन लौट गए। सनराइजर्स की ओर से स्टेन, प्रवीण कुमार, आशीष रेड्डी और भुवनेश्वर कुमार ने एक-एक विकेट हासिल किया।
?