अब रिकॉर्ड की जा सकेगी बच्चों की धड़कन

अब रिकॉर्ड की जा सकेगी बच्चों की धड़कन

नवजात बच्चों में अचानक होने वाली मौत को रोकने के लिए वैज्ञानिक अब एक ऐसी ट्यूब का निर्माण करने जा रहे है जो छोटे बच्चों की सांसों को रिकॉर्ड करने में सक्षम होगा. इस नई तकनीक के जरिये दूर बैठे मां-बांप भी ये आसानी से जान पाएंगे कि उनका बच्चा ठीक से सांस ले रहा है या नहीं. सामने आई ताजा जानकारी के मुताबिक वैज्ञानिकों द्वारा इस ट्यूब का एक प्रोटोटाइप तैयार किया है. बताया जा रहा है कि इस ट्यूब की खासियत है कि इसे नवजात बच्चों के शरीर पर किसी बेल्ट की तरह बाँधा जा सकता है.

दरअसल इस ट्यूब में ग्रेफीन, पानी और तेल का मिश्रण भारा गया है. जानकारी के मुताबिक बच्चे के सांस लेने से या फिर ब्ल्ड प्रेशर के बढ़ने इस ट्यूब मे पर हल्का सा खिचाव होता है और  जैसे ही ये खींचता है तो इसमें मौजूद तरल पदार्थ के अंदर कुछ बदलाव होने लगते है. इसी तरह ये ट्यूब सांस लेने की गति को रिकॉर्ड करने में सक्षम होता है.

इस ट्यूब में रिकॉर्ड होने वाली सांसों की जानकारी को एक स्मार्टफोन एप से संचालित किया जा सकता है. इस टैब का निर्माण करने वाले वैज्ञानिकों का कहना है कि 'यह तकनीक कम पैसों में बनाई जा सकती है. अगले एक दो सालों के भीतर इस ट्यूब को बाजार में बिक्री के लिए उपलब्ध करा दिया जायेगा'.

 

इंस्टा 360 ने लॉन्च किया कॉम्पैक्ट कैमरा NANO S

सैमसंग ने लांच किया Galaxy J2 Pro 2018 मॉडल

5,000 एमएएच की विशाल बैटरी के साथ लांच हुआ बजट स्मार्टफोन

 

क्रिकेट से जुडी ताजा खबर हासिल करने के लिए न्यूज़ ट्रैक को Facebook और Twitter पर फॉलो करे! क्रिकेट से जुडी ताजा खबरों के लिए डाउनलोड करें Hindi News App

Popular Stories