30 अप्रैल को खुलेंगे बद्रीनाथ धाम के कपाट

यह उन भक्तों के लिए खुश खबर है, जो उत्तराखंड में गढ़वाल के उच्च हिमालयी क्षेत्र में स्थित बद्रीनाथ धाम के दर्शन करना चाहते हैं . उन्हें बता दें कि चार प्रमुख धामों में से एक बद्रीनाथ धाम के कपाट आगामी 30 अप्रैल को खुलेंगे.

यह जानकारी देते हुए श्री बद्रीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति के मीडिया प्रभारी डा. हरीश गौड़ ने बताया कि इस मंदिर में दर्शन के लिए आने वाले श्रद्धालुओं के लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं. यह बद्रीनाथ धाम चार धामों में से एक है,जहाँ के बारे में कहा जाता है कि जो व्यक्ति बद्रीनाथ के दर्शन कर लेता है, उसे फिर दुबारा जन्म नहीं लेना पड़ता है.शास्त्रों के अनुसार मनुष्य को जीवन में कम से कम एक बार बद्रीनाथ के दर्शन जरूर करने चाहिए.

आपको बता दें कि शास्त्रों और पुराणों में बद्रीनाथ धाम को दूसरा वैकुण्ठ धाम कहा जाता है.पहला बैकुण्ठ क्षीर सागर है जहां भगवान विष्णु निवास करते हैं और विष्णु का दूसरा निवास बद्रीनाथ है. कहा जाता है कि यह कभी भगवान शिव का निवास स्थान था, लेकिन विष्णु भगवान ने इस स्थान को शिव से मांग लिया था. तब से यहां भगवान विष्णु विराजमान है.यहां आकर दर्शन करने की इच्छा हर हिन्दू भक्त की रहती है

यह भी देखें

विहिप प्रमुख ने भरी हुंकार, जल्द बनेगा भव्य राम मंदिर

आप भी जानें, घर में स्थित मंदिर के महत्व के बारे में

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -