बीमारी से परेशान होकर छात्र ने फांसी लगाई

कोई व्यक्ति आत्महत्या जैसा गंभीर कदम तभी उठाता है जब वो अंदर से टूट चुका होता है या फिर किसी गंभीर बीमारी से जूझ रहा होता है. ये कारण आत्माहत्या के मामले में ज्यादातर सामने आते हैं. गौरतलब है कि पिछले दिनों हिमांशु राय की आत्महत्या का मामला पूरे देश में छाया रहा. अब आत्महत्या का एक मामला भोपाल में सामने आया है.         

भोपाल के बैरसिया क्षेत्र में शासकीय महाविद्यालय में बीएससी प्रथम वर्ष के एक छात्र ने खुदखुशी कर ली है. इस छात्र का नाम राजेंद्र मेहर बताया जाता है. जानकारी के अनुसार राजेंद्र मेहर किसी गंभीर बीमारी से हताश था. छात्र बैरसिया क्षेत्र के मुडलाचंद गांव का रहने वाला बताया जाता है. छात्र ने रविवार की सुबह फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली.  राजेंद्र मेहर ने एक कागज में खुदखुशी के कारण को लिखा है. छात्र ने खुदखुशी के कारण को अपने हाथ की कलाई पर भी लिखा और फिर पेड़ पर फांसी लगा ली.

छात्र ने कागज पर लिखा है कि  वह खुद की समस्याओं से परेशान होकर आत्महत्या कर रहा है. हाथ पर और एक पर्ची में आत्महत्या के कारणों को लिखा है.

करंट लगने से दो युवकों की मौत

सड़क हादसे में चार लोगों की मौत

राज्य स्तरीय स्वच्छता सम्मेलन

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -