शिमला में भरी बर्फ़बारी के साथ कुफरी, महाराष्ट्र के 90 सैलानी फंसे

शिमला: हिमाचल में बीते शुक्रवार यानी 13 दिसंबर 2019 को दूसरे दिन भी बर्फबारी का दौर जारी रहने से दुश्वारियां बढ़ गई हैं. वहीं प्रदेश में छह नेशनल हाईवे समेत 298 छोटी-बड़ी सड़कों पर यातायात ठप रहा. जंहा रोहतांग में 30 घंटों में पांच फीट से ज्यादा बर्फबारी हो चुकी है. जंहा बीते गुरुवार रात को प्रदेश के पांच क्षेत्रों में न्यूनतम पारा माइनस में दर्ज हुआ. शिमला के कुफरी से ढली तक जाम लगने से सैकड़ों सैलानी फंस गए हैं. बर्फबारी से कुफरी में महाराष्ट्र के 90 सैलानी फंस गए हैं. बताया जा रहा है कि मार्ग बंद होने से पहले पुलिस के बार-बार कहने पर भी सैलानी कुफरी से नहीं निकले.

मौसम विभाग के अनुसार शिमला पुलिस ने सभी सैलानियों को कुफरी में होटलों में ठहराया है. सैलानी महाराष्ट्र से कुफरी घूमने आए हैं, लेकिन बर्फबारी के चलते उनकी बसें फंस गई हैं. शिमला पुलिस ने सैलानियों को दिशानिर्देशों की पालना करने की अपील की है.

वहीं मौसम विभाग कि माने तो सोलन के कसौली में सुबह 7 बजे बिजली ठीक करते खंभे से गिरने से एक कर्मचारी की जान चली गई. बारिश-बर्फबारी से अधिकतम तापमान में भी आठ से 10 डिग्री की कमी हुई. कुफरी में अधिकतम पारा -0.5 और केलांग में शून्य रहा. पूरा प्रदेश शीतलहर की चपेट में है.

यूपी में ठंड की मार ने तोड़ा रिकॉर्ड, फसलें बर्बाद और 6 की मौत

जबलपुर: नाले के पास खून से लथपथ मिली पांच वर्षीय मासूम, परिजनों ने लगाया दुष्कर्म का आरोप

2 लाख महिलाओं के साथ हुआ था बलात्कार, मारे गए थे 30 लाख लोग, तब कहीं जाकर बना था बांग्लादेश

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -