दुनियाभर की जेलों में कैद हैं 8000 भारतीय, सऊदी अरब में सबसे अधिक

नई दिल्ली: पूरी दुनिया के 82 देशों की विभिन्न जेलों में तक़रीबन 8 हजार भारतीय कैदी बंद है। यह जानकारी विदेश मंत्रालय ने संसद में दी है। उनमें से, 4058 कैदी छह खाड़ी देशों में कैद हैं। इन देशों भारतीय पारंपरिक रूप से रोजगार के बेहतर अवसरों की तलाश में आते हैं। MEA के मुताबिक, 267 भारतीय कैदी अमेरिका में और 373 यूके में कैद हैं। ग्यारह देशों की जेलों में 100 से ज्यादा भारतीय हैं।

1570 कैदियों के साथ सबसे ज्यादा भारतीय सऊदी अरब में बंद हैं। इसके बाद संयुक्त अरब अमीरात है, जिसमें 1292 भारतीय कैदी हैं। विदेश मंत्रालय के रिकॉर्ड के मुताबिक, कुवैत में 460 भारतीय, क़तर में 439, बहरीन में 178, ईरान में 70 और ओमान में 49 भारतीय बंदी हैं। इसके साथ ही अधिकतम नेपाल (886), उसके बाद पाकिस्तान (524), चीन (157), बांग्लादेश (123), भूटान (91), श्रीलंका (67) और म्यांमार (65) हैं। रोचक बात यह है कि MEA के मुताबिक, अफगानिस्तान में कोई भी भारतीय कैदी नहीं है। मलेशिया में 409 भारतीय कैदी हैं, सिंगापुर में 71 कैद हैं। फिलीपींस में 41 भारतीय हैं, जबकि उनकी जेलों में थाईलैंड 23 और इंडोनेशिया 20 बंद हैं।

वहीं, ऑस्ट्रेलिया में 62 भारतीय जेलों में बंद हैं, जबकि कनाडा और साइप्रस में 23 कैदी हैं। फ्रांस में 35, ग्रीस में 22, मालदीव में 24 और स्पेन में 49 भारतीय बंद हैं। एक प्रश्न का उत्तर देते हुए, मंत्रालय ने कहा कि विदेशों में भारतीय मिशन/पोस्ट "सतर्क रहते हैं और बारीकी से निगरानी करते हैं।  स्थानीय कानूनों के उल्लंघन या स्थानीय कानूनों के कथित उल्लंघन के लिए विदेशों में भारतीय नागरिकों को जेल में डाले जाने की घटनाएं हुई हैं।

गोवा बजट: अंतरराष्ट्रीय पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए किए जाएंगे ये बदलाव

फ्लाइट में जरूर करें कोरोना प्रोटोकॉल का पालन, वरना लग सकता है 3 माह का प्रतिबन्ध

पेट्रोल-डीजल की कीमतों को लेकर बड़ी खुशखबरी, आज फिर घट गए दाम

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -