झारखंड :7 लड़कियों की डूबने से मौत, PM और राष्ट्रपति ने जताया दुःख

लातेहार: झारखंड के लातेहार जिले में 7 आदिवासी लड़कियों की तालाब में डूबने से मौत हो गई। मिली जानकारी के तहत इनमे से 6 लड़कियां एक ही परिवार की थीं और सभी लड़कियां आदिवासी पर्व करमा पूजन के बाद ‘डाली’ का विसर्जन करने गई थीं। मिली जानकारी के अनुसार झारखंड में 7 लड़कियों के एक साथ डूबने की घटना जैसे ही राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को मिली वैसे ही उन्होंने शोक जताया है। राष्ट्रपति ने ट्वीट कर लिखा है, 'लातेहार, झारखंड में करम डाली विसर्जन के दौरान हुए दर्दनाक हादसे में कई बच्चियों की मृत्यु का समाचार सुनकर बेहद व्यथित हूं। दुःख की इस घड़ी में, शोकाकुल परिवारजनों के प्रति मैं गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं।'

 

वहीँ दूसरी तरफ इस घटना पर पीएम नरेंद्र मोदी ने भी शोक जताया है। जी दरअसल प्रधानमंत्री ने कहा, ‘झारखंड के लातेहार जिले में डूबने से लड़कियों की मौत से स्तब्ध हूं। दुख की इस घड़ी में शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं।’ आप सभी को बता दें कि लातेहार के उपायुक्त अबू इमरान ने इस बारे में जानकारी दी है। उन्होंने कहा, शनिवार को बुकरू गांव की 10 लड़कियों की टोली करमा डाली को लेकर रेलवे लाइन के पास बने तालाब में विसर्जन करने गई थीं। आगे उन्होंने बताया, 'विसर्जन के दौरान अचानक दो लड़कियां गहरे पानी में चली गईं और डूबने लगी। उन्हें बचाने के लिए बाकी पांच लड़कियां भी पानी में उतर गईं लेकिन तैराकी न आने की वजह से वे सातों लड़कियां डूब गईं।'

इसके अलावा उन्होंने यह भी बताया कि, 'किनारे खड़ी तीन लड़कियों के शोर मचाने पर ग्रामीण मौके पर पहुंचे और तालाब में उतरकर लड़कियों को बाहर निकाला। तब तक 4 लड़कियों की मौत हो चुकी थी। वहीं 3 लड़कियों की मौत अस्पताल ले जाने के दौरान हुई।' मिली जानकारी के तहत मृत लड़कियों की पहचान, रेखा कुमारी (18), रीना कुमारी (16), लक्ष्मी कुमारी (12 वर्ष) तीनों सगी बहने हैं, सुषमा कुमारी (12), पिंकी कुमारी (18), सुनीता कुमारी (20) और बसन्ती कुमारी (12) के तौर पर की गई है। उपायुक्त का कहना है कि इस मामले की मजिस्ट्रेटी जांच के आदेश दिए गए हैं।

अभिनय ही नहीं निर्देशन भी कर चुके है वेन्नेला किशोर कुमार

आज महंगा हुआ या सस्ता, जानिए क्या है पेट्रोल-डीजल का दाम?

आज इन मन्त्रों के साथ करें गणपति विसर्जन, होगा महालाभ

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -