जान बचाने समुद्र में कूदे शरणार्थी 50 से ज्यादा डूबे

दिल्ली:  जान बचाने के लिए कुछ शरणार्थी भूमध्य सागर में कूद गए जिससे की 50 से ज्यादा  लोगों की डूबने से मौत गई. उनमें से अधिकतर ट्यूनीशिया और तुर्की के तट के पास डूबे हैं. जिसके बाद ट्यूनीशिया के अधिकारियों ने बताया कि देश के दक्षिणी तट के पास से 3 जून को 48 शव हासिल किए गए हैं.

साथ इन अधकारियों ने बताया की 68 लोगों को सुरक्षित बचा लिया गया. यह हिस्सा सफाक्स शहर के नजदीक है. इस हादसे के बाद जिन्दा बचे ट्यूनीशिया के वाएल फरजानी ने बताया कि नौका की अधिकतम क्षमता 75 से 90 लोगों की थी, लेकिन उसमें 180 से ज्यादा लोग जान बचाने के लिए सवार थे. इस मुसाफिर ने बताया कि नौका में पानी घुस गया और कुछ मुसाफिर समंदर में कूद गए और डूब गए.

 

गौरतलब है की ट्यूनीशिया के लोग और शरणार्थी नियमित तौर पर यूरोप में बेहतर भविष्य की तलाश के लिए भूमध्य सागर पार करने की कोशिश करते हैं. मार्च में 120 ट्यूनीशियाइयों को बचाया था. वे इटली पहुंचने की कोशिश कर रहे थे. यहाँ के सफाक्स के नौसेना अड्डे के मोहम्मद सलाह सगामा ने कहा कि लोगों की तलाश के लिए सुबह भी यह अभियान चालू रहेगा. तलाश अभियान को रविवार शाम सात बजे मानक समयनुसार शाम छह बजे रोक दिया गया था. 

'पर्यावरण संरक्षण' से सम्बंधित जोक

'World Environment Day' पर कविताएँ

भारत से जंग की कोई गुंजाइश नहीं- पाक़िस्तान

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -