गलवान हिंसा में मारे गए थे चीन के 45 सैनिक, रूस की एजेंसी का दावा

नई दिल्ली: गलवान घाटी में भारत और चीन के जवानों के बीच हुई हिंसक झड़प में चीन के कम से कम 45 सैनिकों की मौत हुई थी. दरअसल रूस की एक समाचार एजेंसी TASS ने दावा किया है कि 15 जून को गलवान घाटी में जो संघर्ष हुआ था, उसमें चीन के कम से कम 45 जवान मारे गए थे. वहीं इंडियन आर्मी के 20 जवानों की मौत हुई थी. बता दें कि चीन द्वारा अबतक अधिकारिक तौर पर अपने सैनिकों की मौत का कोई आंकड़ा पेश नहीं किया गया है.  

उल्लेखनीय है कि TASS ने ही भारतीय और चीनी सैनिकों के पैंगोंग त्सो लेक पर वापसी की बात कही थी, जिसके बाद अब चीन और इंडियन आर्मी के जवान दोनों ही पीछे हट रहे हैं. बता दें कि चीन के रक्षा मंत्रालय ने चीनी सैनिकों के वापसी की पुष्टि भी कर दी है. बता दें कि कमांडर स्टर के 9वें दौर की बैठक में सैनिकों के पीछे हटने पर दोनों देशों के बीच सहमति बनी थी 

सदन में आज रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने भी वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) के हालात को लेकर चर्चा की और उन्होंने बताया कि हमारी रणनीति यह है कि भारत की एक इंच जमीन भी किसी को हड़पने नहीं देंगे. हमारे दृढ़ संकल्प का ही परिणाम है कि हम समझौते की स्थिति पर पहुंच पाए हैं. चीनी सेना विवादित क्षेत्र से अपने सैनिकों को वापस बुला रहा है. 

फिर रुलाएंगी प्याज़ की कीमतें, जल्द बढ़ने वाले हैं भाव

सोने की कीमतों में जबरदस्त गिरावट, 8000 रुपए तक टूटे दाम

विदेशी नागरिकों का फर्जी आधार कार्ड बना रहा था गैंग, मुंबई क्राइम ब्रांच ने पकड़ा

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -