इस बीमारी से हर साल 44 लाख लोगों की हो रही है मौत, इस गलती से बढ़ रहा है खतरा

इस बीमारी से हर साल 44 लाख लोगों की हो रही है मौत, इस गलती से बढ़ रहा है खतरा
Share:

आज की भागदौड़ भरी जीवनशैली और खान-पान की आदतों में कोलेस्ट्रॉल के स्तर में वृद्धि का जोखिम बढ़ रहा है। कोलेस्ट्रॉल, रक्त में पाया जाने वाला मोम जैसा पदार्थ है, जो लीवर द्वारा निर्मित होता है और खाए जाने वाले खाद्य पदार्थों के माध्यम से भी शरीर में प्रवेश करता है।

शरीर को स्वस्थ रहने के लिए कोलेस्ट्रॉल की आवश्यकता होती है, लेकिन अत्यधिक स्तर गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बन सकता है। उच्च कोलेस्ट्रॉल स्तर हृदय रोग, स्ट्रोक और दिल के दौरे के जोखिम को काफी हद तक बढ़ा देता है। इन जोखिमों को कम करने के लिए कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने के लिए कदम उठाना महत्वपूर्ण है।

कोलेस्ट्रॉल कम करने के उपाय

दवाएँ वर्ल्ड हार्ट फेडरेशन (WHF) के अनुसार, स्टैटिन जैसी कुछ दवाएँ कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने या इसके खतरों को रोकने में मदद कर सकती हैं। हालाँकि, पूरी तरह से दवाओं पर निर्भरता से बचने के लिए जीवनशैली और आहार में सुधार करना उचित है।

नमक का सेवन कम करें अधिक नमक वाले खाद्य पदार्थों का सेवन कम करें। अपने आहार में फल, सब्जियाँ और साबुत अनाज शामिल करें। इससे कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम होता है और समग्र स्वास्थ्य को बढ़ावा मिलता है।

पशु वसा सीमित करें अधिक वसा वाले मांस का सेवन सीमित करें। पशु वसा कोलेस्ट्रॉल के स्तर को तेज़ी से बढ़ा सकता है। इसके बजाय, स्वस्थ वसा से भरपूर खाद्य पदार्थों का सेवन करने और नियंत्रित वज़न बनाए रखने पर ध्यान दें।

शराब और धूम्रपान से बचें वर्ल्ड हार्ट फेडरेशन (WHF) के अनुसार, कोलेस्ट्रॉल के स्तर को रोकने और कम करने के लिए शराब और सिगरेट से बचना ज़रूरी है। यह अभ्यास विभिन्न स्वास्थ्य समस्याओं को रोकने और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ने से रोकने में मदद कर सकता है।

तनाव को नियंत्रित करें, नियमित रूप से व्यायाम करें WHF का सुझाव है कि तनाव को नियंत्रित करने और नियमित रूप से व्यायाम करने से कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है। प्रतिदिन कम से कम 30 मिनट व्यायाम करने से समग्र स्वास्थ्य और तंदुरुस्ती में योगदान मिल सकता है।

सिम पोर्टिंग के नियमों में होने जा रहा है बड़ा बदलाव, 1 जुलाई से नहीं कर पाएंगे ये काम

Uttarakhand Technical University ने Assistant Professor Recruitment 2024 के लिए ऑनलाइन फॉर्म जारी किया

क्या भारत आएगी रेनो की ऑस्ट्रल ई-टेक हाइब्रिड? इनोवा को देती है कड़ी टक्कर

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -