इस राज्य में कुंवारे रह गए 40 हज़ार ब्राह्मण, यूपी-बिहार में खोजी जा रही दुल्हन

चेन्नई: तमिलनाडु में 40,000 से ज्यादा ब्राह्मण युवाओं के लिए राज्य के अंदर दुल्हन ढूंढना कठिन हो रहा है। अब तमिलनाडु स्थित ब्राह्मण संघ ने उत्तर प्रदेश और बिहार में एक ही समुदाय से जुड़े उपयुक्त मैचों की खोज के लिए एक विशेष मुहीम शुरू की है। तमिलनाडु ब्राह्मण एसोसिएशन (थम्ब्रास) के प्रमुख एन नारायणन ने एसोसिएशन की मासिक तमिल पत्रिका के नवंबर अंक में प्रकाशित एक खुले पत्र में कहा है कि, "हमने अपने संगम की तरफ से एक विशेष आंदोलन शुरू किया है।"

नारायणन ने आगे कहा कि 30-40 आयु वर्ग के तक़रीबन 40,000 से ज्यादा तमिल ब्राह्मण पुरुष शादी नहीं कर पाए, क्योंकि वे तमिलनाडु के अंदर वे अपने लिए दुल्हन नहीं खोज पा रहे हैं। बॉलपार्क का आंकड़ा देते हुए उन्होंने कहा कि, "यदि विवाह योग्य आयु वर्ग में 10 ब्राह्मण लड़के हैं, तो तमिलनाडु में विवाह योग्य आयु वर्ग में सिर्फ छह लड़कियां उपलब्ध हैं।'

एसोसिएशन अध्यक्ष ने अपने पत्र में कहा कि इस पहल को आगे बढ़ाने के लिए दिल्ली, लखनऊ और पटना में समन्वयक नियुक्ति किए जाएंगे। इस संबंध में पूछे जाने पर नारायणन ने कहा कि जो व्यक्ति हिंदी में पढ़, लिख और बोल सकता है, उसे यहां संघ के हेडक्वार्टर में समन्वय की भूमिका निभाने के लिए नियुक्त किया जाएगा।

नए रिकॉर्ड की तरफ बढ़ रहा सोने-चांदी! कीमतों में आया भारी उछाल, जानिए आज का भाव

तेलंगाना की मनायर नदी में डूबे छह बच्चे

अबू धाबी ने देश में ऊर्जा को प्राप्त करने के लिए प्रतिबद्धता प्रदर्शित की

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -