4 अवैध बांग्लादेशी गिरफ्तार, लोकसभा चुनाव में डाल चुके हैं वोट, सभी के पास भारत के फर्जी दस्तावेज़

4 अवैध बांग्लादेशी गिरफ्तार, लोकसभा चुनाव में डाल चुके हैं वोट, सभी के पास भारत के फर्जी दस्तावेज़
Share:

मुंबई: मुंबई आतंकवाद निरोधक दस्ते (ATS) ने महाराष्ट्र के मुंबई में रह रहे चार अवैध बांग्लादेशी प्रवासियों को गिरफ्तार किया, जो नकली भारतीय दस्तावेजों का उपयोग करते पाए गए। आरोपियों की शिनाख्त रियाज हुसैन शेख (33), सुल्तान सिद्दीकी शेख (54), इब्राहिम शफीउल्लाह शेख (46) और फारूक उस्मानगनी शेख (39) के रूप में हुई है, जो सभी बांग्लादेश के नोवाखली जिले के मोनिनांगर में कबीट हाट के निवासी हैं।

ATS ने शहर में रह रहे पांच और बांग्लादेशी नागरिकों की भी पहचान की है, जिनके पास फर्जी भारतीय दस्तावेज हैं और उन्हें पकड़ने के लिए तलाशी अभियान शुरू किया है। रिपोर्ट्स से पता चलता है कि गिरफ्तार किए गए लोगों ने वोटर कार्ड हासिल किए थे और इन फर्जी दस्तावेजों का इस्तेमाल करके लोकसभा चुनाव 2024 में वोट भी डाला था। आरोपियों पर भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 465, 468, 471 और 34 तथा भारत में अवैध रूप से रहने के लिए भारतीय पासपोर्ट अधिनियम की धारा 12(1ए) के तहत केस दर्ज किया गया है। जांच में गुजरात के सूरत में निवास का प्रमाण मिला, जहां उन्होंने मुंबई में स्थानांतरित होने से पहले पासपोर्ट प्राप्त किया। एक रिपोर्ट के अनुसार, रियाज और सुल्तान ने मुंबई में वोट देने के लिए इन फर्जी दस्तावेजों का इस्तेमाल किया।

ATS द्वारा तलाशे जा रहे पांच अन्य बांग्लादेशी नागरिकों में से एक कथित तौर पर फर्जी दस्तावेजों के आधार पर प्राप्त भारतीय पासपोर्ट का उपयोग करके सऊदी अरब भी जा चूका है। शेष संदिग्ध फिलहाल फरार हैं और जांच एजेंसियां ​​सक्रियता से उनकी तलाश कर रही हैं। सभी गिरफ्तार व्यक्तियों को अदालत में पेश किया गया। तीन को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया, जबकि एक को 14 जून तक एटीएस की हिरासत में रखा गया।

9 अवैध बांग्लादेशी महिलाएं हुईं थीं गिरफ्तार:-
इससे पहले, 7 जून को, MBVV (मीरा-भयंदर, वसई-विरार) पुलिस अधिकारियों द्वारा मुंबई के मीरा रोड के आसपास के इलाकों में अवैध अप्रवासियों के खिलाफ कार्रवाई में नौ महिला बांग्लादेशी नागरिकों को बिना आवश्यक दस्तावेज के अधिक समय तक रहने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। उन्हें शरण देने के आरोप में एक और महिला को पकड़ा गया। नया नगर पुलिस ने गोपनीय सूचना के आधार पर 5 जून को मीरा रोड के शांति नगर और गीता नगर इलाकों में छापेमारी की, जिसके बाद ये गिरफ्तारियाँ हुईं।

केरल के कुरान शिक्षक अब्दुल जब्बार को कोर्ट ने सुनाई 56 साल की सजा, हैरान कर देगा ये मामला

रजत शर्मा ने कांग्रेस प्रवक्ता को गाली दी या नहीं ? अब हाई कोर्ट में होगा फैसला

'मदरसे के नाबालिग बच्चों से गुप्तांग धुलवाता है मौलवी और शौच के बाद...', अब्दुल हफीज के खिलाफ दर्ज हुई शिकायत

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
Most Popular
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -