श्री जगन्नाथपुरी मंदिर के ऊपर ड्रोन उड़ाने वाले गिरफ्तार

पुरी. हिन्दुओं के प्रसिद्द धर्म स्थल श्री जगन्नाथपुरी मंदिर के ऊपर से कोई भी विमान या ड्रोन ले जाने की मनाही है. यह उड़ान निषिद्ध क्षेत्र है. बावजूद इसके चार रूसी नागरिक इस मंदिर के ऊपर से ड्रोन चला रहे थे. ओड़िशा पुलिस ने इन चारों को इस मामले में हिरासत में लेकर पूछताछ की, चार लोगों में से तीन महिलाएं हैं. पुलिस ने बताया कि इन चारों ने अपने आप को इस्कॉन का सदस्य बताया है. 

चार रूसी नागरिक, ओडिशा के श्री जगन्नाथ मंदिर के ऊपर से, बिल्कुल स्पष्ट फोटो खींचने की उच्च क्षमता वाले कैमरे से लैस ड्रोन को उड़ा रहे थे. पुलिस ने इन चारों को गिरफ्तार कर लिया. सिंहद्वार थाने के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि श्री जगन्नाथ मंदिर के पास स्थित राधावल्लभ मठ की छत से इंटरनेशनल सोसायटी फोर कृष्णा कंससनेस के ये चारों श्रद्धालु ड्रोन चला रहे थे. पुरी के पुलिस अधीक्षक सार्थक सारंगी के अनुसार पूछताछ करने के बाद चारों को निजी बांड पर छोड़ दिया गया.

पूछताछ के दौरान उन्होंने बताया कि उन्हें ज्ञात नहीं था कि यह 'उड़ान निषिद्ध क्षेत्र' है. दरअसल जिला प्रशासन ने साल 2014 में श्री जगन्नाथ मंदिर और उसके इर्द-गिर्द के क्षेत्र को 'उड़ान निषिद्ध क्षेत्र' घोषित किया था. इस मंदिर के ऊपर से प्लेन भी नहीं गुज़रते हैं. आश्चर्य की बात यह है कि इस मंदिर से जुड़े कुछ रहस्य हैं, जिनमे में से एक यह भी है कि इस मंदिर के ऊपर से पक्षी भी नहीं गुज़रते हैं.

राजस्थान में मुस्लिम कर्मचारियों की गिनती का आदेश

शराबबंदी कानून के खिलाफ जन जागरूकता जरूरी : नीतीश

संरचना के सृजन की गति जारी रखने की जरूरत -जेटली

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -