आज ही के दिन हुआ था हिंदुस्तान को तोड़ने का ऐलान

Jun 03 2018 04:39 PM
आज ही के दिन हुआ था हिंदुस्तान को तोड़ने का ऐलान

नई दिल्ली : आज का दिन भारतीय इतिहास में काफी महत्वपूर्ण स्थान रखता हैं. दरअसल, आज ही के दिन साल 1947 में भारत के अंतिम वायसरॉय लॉर्ड माउंटबेटन ने भारत के बंटवारे का ऐलान किया था. इसके कुछ समय बाद भारत से एक हिस्सा अलग हो गया था, जो कि बाद में पाकिस्तान बना. इसी के साथ आज ही के दिन वर्ष 1984 में पंजाब के अमृतसर में स्थित सिखों के पवित्र स्थल स्वर्ण मंदिर को खालिस्तान समर्थक जनरैल सिंह भिंडरावाले और उसके समर्थकों से मुक्त कराने के लिए ऑपरेशन ‘ब्लूस्टार’ की शुरुआत भी की गई थी. 

3 जून 1947 को जब भारत के बंटवारे का ऐलान किया गया था. उस समय अंग्रेजी हुकूमत पूर्णतः भारत से जा चुकी थी. साल 1947 में ही भारत को अंग्रेजों से आजादी मिली थी. अंग्रेजों ने हमारे देश पर करीब 250 वर्षों तक राज किया था. 3 जून को ‘तीन जून योजना’ या ‘माउंटबेटन योजना’ के नाम से भी जाना जाता हैं. कई मुस्लिम्स ने भारत से अलग होने की बात कही थी. जिसके बाद अंततः पाकिस्तान का जन्म हुआ था.
 
जानिए 3 जून का ऐतिहासिक दृष्टि से महत्व...

- आज ही के दिन साल 1915 में ब्रिटिश सरकार ने रविंद्रनाथ टैगोर को नाइटहुड की उपाधि से नवाजा था. 
- वर्ष 1924 में एम करुणानिधि का जन्म. जो कि 5 बार तमिलनाडु के मुख्यमंत्री रहें. 
- सिंगापुर जो कि विश्व के सबसे महंगे देशों में से एक है, उसे आज ही के दिन साल 1959 में सेल्फ गर्विनंग स्टेट घोषित किया गया था. 
- भारत सरकार ने आज ही के दिन साल 1985 में पांच दिन का कार्य दिवस सप्ताह शुरू किया था. 

भारत में प्रथम : पीएम, राष्ट्रपति जैसे दर्जनों प्रश्नोत्तरों के बारे में यहां जानिए एक साथ

सामान्य ज्ञान 2018 : देश के कुछ लेखक और उनकी किताबों के बारे में...

CBSE 10th Result 2018 : कल घोषित होगा 10वीं कक्षा का परिणाम

?