कांगों में 32 भारतीय शांति सैनिक घायल

किंशासा : डेमोक्रेटिक रिपब्लिक आॅफ कांगो के पूर्वी भाग में स्थित गोमा शहर में भीषण विस्फोट हो गया। इस विस्फोट में एक बच्चे की मौत हो गई। विस्फोट इतना भीषण था कि कई किलोमीटर तक इसकी आवाज सुनाई दी। विस्फोट के बाद लोग बदहवास से दौड़ लगा रहे थे। कुछ लोग घायलों की मदद के लिए पहुंचे तो कुछ मदद के लिए चीख रहे थे। घटना के बाद एंबुलेंस को बुलाया गया और घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया। यहां पर कार्यरत शांति सेना ने लोगों को राहत देने का कार्य प्रारंभ कर दिया है। कई लोगों को यहां से सुरक्षित हटाया गया।

मगर इस विस्फोट की चपेट में भारत के शांति सैनिक घायल हो गए। घटना में करीब 32 भारतीय सैनिक घायल हो गए। मिली जानकारी के अनुसार कांगो में कार्य करने वाले संयुक्त राष्ट्र मिशन ने इस तरह की जानकारी सार्वजनिक की है। इस मामले में मिशन ने कहा है कि मंगलवार सुबह गोमा के पश्चिम स्थित कीशोरों में शांतिसेनिक प्रातः के समय दौड़ के लिए पहुंचे थे।

इसी दौरान इस तरह की दुर्घटना हुई। इस विस्फोट को लेकर पास की ही मस्जिद के इमाम इस्माइल सलूमू द्वारा कहा गया कि घटना में तीन शांति सेनिक घायल हो गए। एक समाचार एजेंसी के हवाले से जानकारी दी गई है कि यहां पर होने वाले विस्फोट की भयावहता बहुत अधिक थी। गौरतलब है कि यहां पर यूएन के 18000 सेनिक कार्यरत हैं। यहां पर विद्रोही गुट आज भी सक्रिय है जिसके खिलाफ वर्ष 1996 से 2003 के बीच बड़े संघर्ष किए गए। इन संघर्षों में बड़े पैमाने पर जान-माल का नुकसान हुआ था।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -