हैकिंग के आरोप में Wipro के 3 कर्मी हिरासत में

Jan 29 2016 07:22 PM
हैकिंग के आरोप में Wipro के 3 कर्मी हिरासत में

बेंगलुरु: विप्रो कंपनी के कोलकाता से तीन कर्मचारियों को पुलिस ने हिरासत में लिया है। इन तीनों पर आऱोप है कि इन्होने यूके बेस्ड कंपनी टेलीकॉम फर्म टॉकटॉक की वेबसाइट को हैक किया है औऱ उसके कस्टमर रिकॉर्डस में छेड़छाड़ की है। इसके बाद टॉकटॉक के प्रवक्ता का कहना है कि हम विप्रो के साथ संबंधों पर विचार कर रहे है। टॉकटॉक पर अक्टूबर में साइबर अटैक हुआ था।

जिसमें कंपनी के पर्सनल और फाइनेंशियल डॉक्युमेंट्स समेत पौने दो लाख कस्टमर्स के बैंक अकाउंट्स में छेड़छाड़ हुई थी। इस पूरे मामले पर विप्रो के नए सीईओ अबिदाली नीमचवाला ने कहा कि पहले हमें इसकी पुरी जांच करनी होगी। इंडस्ट्री एनालिस्ट्स की मानें तो विप्रो के बीपीओ ऑपरेशंस पर सख्ती होगी। कई सीनियर एग्जीक्यूटिव्स पर कार्रवाई भी हो सकती है।

बड़ी बात यह है कि यह सब उस समय हुआ है जब विप्रो अपनी ग्रोथ रेट बढ़ाने के बारे में सोच रही है। पिछले कुछ महीनों में विप्रो की ग्रोथ में गिरावट देखी गई थी। मामले का खुलास तब हुआ जब कंपनी ने अक्टूबर में हुए साइबर अटैक के बाद सभी ऑपरेशंस के लिए फॉरेंसिक रिव्यू करवाया था।

इसके लिए कंपनी ने बीएई सिस्टम को हायर किया। इसके बाद प्रवक्ता ने कहा कि फोरेंसिक रिव्यू में हम विप्रो और कोलकाता पुलिस के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। कोलकाता में विप्रो के 3 इम्प्लॉइज को हमारी पॉलिसीज और कॉन्ट्रैक्ट टर्म को तोड़ने के आरोप में अरेस्ट किया गया था।