डॉर्क वेब पर लीक हुआ 2.9 करोड़ भारतीयों का डाटा, कर रहे थे जॉब की तलाश

डॉर्क वेब पर लीक हुआ 2.9 करोड़ भारतीयों का डाटा, कर रहे थे जॉब की तलाश

 एक बार फिर से करोड़ों भारतीय यूजर्स की निजी जानकारी डार्क वेब पर पहुंच गई है। इसकी जानकारी साइबर फर्म साइबल (Cyble) ने दी है। साइबल ने इससे पहले फेसबुक और Unacademy यूजर्स के डाटा लीक को भी लेकर जानकारी दी थी।साइबल की रिपोर्ट के मुताबिक डार्क वेब पर जॉब की तलाश कर रहे 2.9 करोड़ भारतीय युवाओं की निजी जानकारी मौजूद है। बड़ी बात यह है कि इन कीमती डाटा की कोई कीमत नहीं लगाई गई है। डार्क वेब पर सभी डाटा मुफ्त में उपलब्ध है। लीक हुए डाटा में शैक्षणिक योग्यता समेत घर का पता और मोबाइल नंबर जैसी जानकारियां शामिल हैं।

 ये सभी डाटा भारत की एक बड़ी जॉब सर्च कंपनी की वेबसाइट से लीक हुए हैं, हालांकि कंपनी इस मामले की जांच कर रही है। डाटा लीक यूजर्स के रिज्यूम से हुआ है।गौरतलब है कि साइबल ने इससे पहले फेसबुक के 26 करोड़ यूजर्स का डाटा लीक की जानकारी दी थी। साइबल ने दावा किया था कि 26.7 करोड़ फेसबुक यूजर्स का डाटा डार्क वेब पर 542 डॉलर्स यानी करीब 41,600 रुपये में बिक रहा था। लीक हुए डाटा में यूजर्स के नाम, फेसबुक आईडी नंबर, उम्र, लास्ट कनेक्शन और मोबाइल नंबर जैसे डाटा शामिल थे।

वहीं साइबल ने भारत के सबसे बड़े ई-लर्निंग प्लेटफॉर्म अनएकेडमी (Unacademy) के हैक होने की भी रिपोर्ट दी थी जिसके मुताबिक Unacademy के सर्वर में सेंध लगाकर हैकर्स ने 22 मिलियन यानी करीब 2.2 करोड़ से अधिक छात्रों की जानकारी चुराई थी।रिपोर्ट में कहा गया था कि Unacademy के 21,909,707 डाटा लीक हुए थे जिनकी कीमत 2,000 अमेरिकी डॉलर थी। इस डाटा लीक को Unacademy ने स्वीकार करते हुए यूजर्स को तुरंत पासवर्ड बदलने की सलाह दी थी।

आधिकारिक तौर पर Citra बना पहला 3DS एमुलेटर

Final Fantasy VII रीमेक बना अप्रैल 2020 का सबसे अधिक बिकने वाला गेम

Soundcore ने भारतीय बाजार में लॉन्च किये नए वायरलेस ईयरफोन