कोरोना कवच बीमा पालिसी को मिली 29 कंपनियों की मंजूरी, 5 लाख तक रहेगी बीमा राशि

कोरोना कवच बीमा पालिसी को मिली 29 कंपनियों की मंजूरी, 5 लाख तक रहेगी बीमा राशि

नई दिल्ली: पूरे देश में लगातार बढ़ रहे कोरोना वायरस के मरीजों के बीच 29 कंपनियों को कोरोना कवच बीमा पॉलिसी शुरू करने की स्वीकृति मिल गई है. इन तमाम कंपनियों को भारतीय बीमा नियामक एवं विकास प्राधिकरण (IRDAI) से हरी झंडी दे दी गई है. IRDAI ने पहले ही तमाम कंपनियों से कहा था कि महामारी से निपटने के लिए छोटी मियाद (3.5 माह से 9.5 माह) तक की पॉलिसी शुरू करें. जिन कंपनियों को पॉलिसी लाने की इजाजत मिली है, वो साधारण और स्वास्थ्य बीमा क्षेत्र में पहले से कार्यरत हैं. 

IRDAI ने साधारण और स्वास्थ्य बीमा कंपनियों से 10 जुलाई तक कोरोना कवच स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी पेश करने के निर्देश दिए थे. देश में कोरोना वायरस संक्रमित मामलों की तादाद लगभग 8 लाख तक पहुंच गई है और इसमें लगातार बढ़ोतरी हो रही है. IRDAI के दिशानिर्देश के मुताबिक, अल्पावधि के लिए पॉलिसी साढ़े तीन माह, साढ़े छह माह और साढ़े नौ माह के लिए आ सकती है. इसमें बीमा राशि 50,000 रुपये से लेकर 5 लाख रुपये तक (50,000 रुपये के गुणक में) रहने की संभावना है।

IRDAI ने जिन 29 साधारण और स्वास्थ्य बीमा कंपनियों को कोरोना कवच बीमा पॉलिसी लाने की इजाजत दी है, उनमें पब्लिक और प्राइवेट सेक्टर की बीमा कंपनियां जैसे ओरियंटल इंश्योरेंस, नेशनल इंश्योरेंस, एसबीआई जनरल इंश्योरेंस, ICICI लोम्बार्ड, HDFC एर्गो, मैक्स बूपा, बजाज आलियांज, भारती एक्सा और टाटा AIG शामिल हैं.

वैश्विक स्तर पर चमका सोना, कीमत कर देगी तुरंत खरीदने पर मजबूर

दुनिया के सातवें सबसे धनी व्यक्ति बने मुकेश अंबानी, नए निवेश ने बढ़ाया शेयर प्राइस

कोरोना काल में भी जमकर चांदी काट रहा फर्नीचर का कारोबार, जानिए क्या है वजह