काबुल में सीक्रेट सर्विस को निशाना बना फिदायीन हमला, 24 की मौत

काबुल : अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में एक बार फिस से फिदायीन हमले की सूचना मिली है। इस बार हमलावरों ने सीक्रेट सर्विस यूनिट को निशाना बनाया है। यूनिट के बाहर विस्फोटकों से भरे ट्रक से सुसाइड बॉम्बर ने ब्लास्ट कर दिया। फिलहाल फायरिंग जारी है। इस ब्लास्ट में 24 लोगों की मौत हो गई। ये सीक्रेट सर्विस यूनिट वीआईपी को सुरक्षा देने का काम करती है।

अफगानी राष्ट्रपति अशरफ गनी ने इस हमले की निंदा की है। हमला पुल-ए-महमूद इलाके में हुआ। इसी इलाके में अमेरिकी एंबेसी भी मौजूद है। मंगलवार की सुबह सेंट्रल काबुल से काफी धुंआ निकलते देखा गया। यूएस एंबेसी से भी सायरन की आवाज सुनाई दी।

यूएस एंबेसी और नाटो ने इस बात की पुष्टि की है कि इस हमले में कोई भी हताहत नहीं हुआ है। अमेरिकी एंबेसी के पास ही नाटो मिलिट्री का हेडक्वार्टर है। तालिबान ने हाल के दिनों में धमकी दी थी कि वो यूएस एंबेसी सहित नाटो फोर्सेज को उड़ा देंगे।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -