22 जुलाई को मनाया जाता है राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे का जन्मदिन

तिरंगा जो कि हमारे देश की शान है। बड़े ही गर्व के साथ हम इसे लहराया करते हैं। लेकिन इससे जुडी बातें बहु थी कम लोग जानते हैं जिसके बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं। ये बात आप भी नहीं जानते होंगे कि आज हमारे राष्ट्रीय ध्वज तींरंगे का जन्मदिन है।

जी हाँ, हमारे देश के आजाद होने के बाद संविधान सभा में पंडित जवाहरलाल नेहरू ने 22 जुलाई 1947 को ही हमारे तिरंगे को राष्ट्रीय ध्वज घोषित किया था। जिसमे तीन रंग हैं, ऊपर केसरिया, बीच में सफेद और नीचे हरा रंग। इसी के साथ आप देख सकते हैं इस झंडे में एक अशोक चक्र भी है जिसमे 24 तिल्लियों से बना हैं और इसमें नीला रंग है।

लेकिन इसके पहले महात्मा गाँधी ने साल 1921 में दो रंग के झंडे को राष्ट्री ध्वज बनाने की बात कही थी जिसे मछलीपट्टनम के वेंकैया ने बनाया था। इस झंडे में लाल रंग था और हरा रंग था जिसमे लाल हिंदू और हरा रंग मुस्लिम का प्रतिनिधत्व करता था। इसके बिच में गांधीजी का चक्र भ्ही बना हुआ था जो ये बताता था कि ये झंडा भारत के बने कपड़े से ही बना है।

इसके बाद खिलाफत आंदोलन में तीन रंगों के स्वराज झंडे का प्रयोग किया गया और इस झंडे को स्वीकृति मिल गयी। और साथ ही साल 1947 से तिरंगा ध्वज को स्वतंत्र भारत का राष्ट्रीय ध्वज स्वीकार किया गया।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -