200 लड़कियों का रेप, गर्भपात ! बिहार में नौकरी के नाम पर यौन शोषण का बड़ा खेल, 9 पर केस दर्ज

200 लड़कियों का रेप, गर्भपात ! बिहार में नौकरी के नाम पर यौन शोषण का बड़ा खेल, 9 पर केस दर्ज
Share:

बिहार : बिहार के मुजफ्फरपुर जिले से यौन शोषण की एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है, जहां कई युवतियों को महीनों तक बंदी बनाकर रखा गया और कम से कम नौ लोगों के एक समूह ने कई मौकों पर उनका यौन उत्पीड़न किया, जिन्होंने पीड़ितों को आकर्षक नौकरी दिलाने के बहाने बहकाया। पुलिस के अनुसार, नौ लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है जो एक फर्जी मार्केटिंग फर्म चला रहे थे और उन पर आरोप है कि उन्होंने मुजफ्फरपुर जिले में नौकरी दिलाने का वादा करके कई युवतियों को बंधक बनाकर महीनों तक उनके साथ बलात्कार किया। रिपोर्ट के अनुसार, लगभग 200 लड़कियों के साथ दरिंदगी की गई है। 
 
एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया, "सभी नौ आरोपी फरार हैं और पुलिस ने उन्हें पकड़ने के लिए तलाश शुरू कर दी है। अदालत के निर्देश के बाद मामला दर्ज किया गया है।" उन्होंने बताया कि पीड़ितों में से एक ने अदालत में नौ लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। डिप्टी एसपी विनीता सिन्हा ने संवाददाताओं को बताया, "हमने शिकायतकर्ता के साथ-साथ कई अन्य पीड़ितों का बयान दर्ज किया है। शिकायत से पता चला है कि आरोपी ने पहली बार जून 2022 में सोशल मीडिया के जरिए उससे संपर्क किया और उसे अच्छी नौकरी पाने के लिए मुजफ्फरपुर आने को कहा।"

अधिकारी ने बताया, "जब वह मुजफ्फरपुर आई तो उसे पहले एक कमरे में रखा गया। वहां कई अन्य युवतियां भी रहती थीं। बाद में उन्हें एक अज्ञात स्थान पर भेज दिया गया और सभी युवतियों को फोन करके अपनी फर्जी फर्म में आकर्षक नौकरी दिलाने का काम करने लगे।" सिन्हा ने बताया कि आरोपी अंततः पीड़ितों के साथ रहने लगे। उन्होंने बताया कि महिलाओं को आरोपियों ने बंधक बना लिया, उनके साथ मारपीट की तथा कई बार उनका यौन शोषण किया। उन्होंने कहा कि शिकायतकर्ता और अन्य पीड़ितों को भी विवाह के लिए मजबूर किया गया।

सिन्हा ने कहा, "बाद में उन्हें धोखे से गर्भपात करवा दिया गया। शिकायतकर्ता ने पुलिस को यह भी बताया कि जब भी वे अपनी तनख्वाह मांगते थे, तो आरोपी उन्हें कहते थे कि अब वे फर्म का हिस्सा हैं। आखिरकार, पीड़िता भागने में कामयाब रही और एफआईआर दर्ज करवाने के लिए पुलिस स्टेशन गई।" पीड़िता ने बताया कि पुलिस ने शुरू में उसकी शिकायत स्वीकार करने से इनकार कर दिया, जिसके कारण उसने अदालत का दरवाजा खटखटाया। सिन्हा ने कहा कि इसकी जांच की जाएगी कि पुलिस ने पहले उनकी शिकायत क्यों नहीं दर्ज की।

'कांग्रेस ने साबित कर दिया कि वो हिन्दुओं..', प्रियंका गांधी के वायनाड से लड़ने पर क्या बोले आचार्य प्रमोद ?

राहुल गांधी, शरद पवार सहित INDIA ब्लॉक के नेताओं को स्वाति मालीवाल का पत्र, बोलीं- मैं 9 साल तक..

पाकिस्तानी ब्रिगेडियर आमिर हमजा को 'अज्ञात' हमलावरों ने गोलियों से भूना, कश्मीर में आर्मी कैंप पर हुए हमले में आया था नाम

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
Most Popular
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -