सफलता के 20 मंत्र

                       सफलता के 20 मँत्र

खुद की कमाई से कम खर्च हो ऐसी जिन्दगी बनाओ
दिन मेँ कम से कम 3 लोगो की प्रशंसा करो
खुद की भुल स्वीकारने मेँ कभी भी संकोच मत करो
किसी के सपनो पर हँसो मत
आपके पीछे खडे व्यक्ति को भी कभी कभी आगे जाने का मौका दो
रोज हो सके तो सुरज को उगता हुए देखे
खुब जरुरी हो तभी कोई चीज उधार लो

किसी के पास से कुछ जानना हो तो विवेक से दो बार...पुछो
कर्ज और शत्रु को कभी बडा मत होने दो
ईश्वर पर पुरा भरोसा रखो
प्रार्थना करना कभी मत भुलो,प्रार्थना मेँ अपार शक्ति होती है
अपने काम से मतलब रखो
समय सबसे ज्यादा कीमती है, इसको फालतु कामो मेँ खर्च मत करो
जो आपके पास है, उसी मेँ खुश रहना सिखो

बुराई कभी भी किसी कि भी मत करो, क्योंकि बुराई नाव मेँ छेद समान है, बुराई छोटी हो बडी नाव तो डुबो ही देती है
हमेशा सकारात्मक सोच रखो
हर व्यक्ति एक हुनर लेकर पैदा होता है बस उस हुनर को दुनिया के सामने लाओ
कोई काम छोटा नही होता हर काम बडा होता है जैसे कि सोचो जो काम आप कर रहे हो अगर वह काम आप नही करते हो तो दुनिया पर क्या असर होता
सफलता उनको ही मिलती है जो जीवन में कुछ करते है
कुछ पाने के लिए कुछ खोना नही बल्कि कुछ अलग करना पडता है

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -