मोबाईल की बैटरी फटने से दो बच्चे घायल

भोपाल/कटनी : कटनी के एक गांव में मोबाईल की बैटरी फटने से दो मासूम बच्चे घायल हो गए। दोनों ही बच्चे मोबाईल की बेकार हो चुकी बैटरी से खेल रहे थे। इस दौरान इस तरह की दुर्घटना हो गई। उनके चेहरे और शरीर के सामने के भाग में अधिक चोट पहुंची। जांच के दौरान यह जानकारी मिली है कि वे मोबाईल की पुरानी बैटरी लेकर धूप में खेल रहे थे इस दौरान गर्मी के कारण बैटरी में विस्फोट हो गया। इस दौरान कटनी के बम्होरी गांव में धूप सिंह के दो पुत्र देवराज और रामराज पुराने मोबाईल की बैटरी से खेल रहे थे। खेलते समय अचानक मोबाईल की बैटरी फट गई।

इस दुर्घटना में दोनों ही बच्चे गंभीर रूप से घायल हो गए। दोनों ही बच्चों को प्राथमिक उपचार के बाद जबलपुर रेफर कर दिया गया। मोबाईल को यदि चार्ज पर लगाया जाए तो फिर न तो कॉल रिसीव करें और न ही कॉल लगाऐं। बैटरी को पूरा चार्ज नहीं करें, 10 प्रतिशत की गुंजाइश सदैव ही रखें। कुछ लोग रात से लेकर सुबह तक बैटरी चार्ज करते हैं, ये मोबाईल फटने का एक बड़ा कारण हो सकता है।

जिस कंपनी का मोबाईल बताया जा रहा है उसी कंपनी के चार्जर का प्रयोग किया जाए। जिस कंपनी का मोबाईल है उसी कंपनी के चार्जर का प्रयोग करें। नकली चार्जर का उपयोग बिल्कुल भी न किया जाए। जिस कंपनी का मोबाईल बताया गया है उसी कंपनी के चार्जर का उपयोग किया जाए नकली चार्जर का उपयोग बिल्कुल भी न हो। मोबाईल को चार्जिंग के लिए गर्म जगह बिल्कुल भी न रखें। अधिक लंबे समय तक चार्जर को न लगाऐं।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -