ग्वालियर-चंबल में 18 केस कोरोना पॉजिटिव निकले, प्रशासन की लापरवाही आई सामने

मध्य प्रदेश के कई जिलों में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है. दिन पर दिन मरीजों की संख्या में इजाफा होता जा रहा है. वहीं, ग्वालियर-चंबल अंचल में रविवार को 18 केस पॉजिटिव मिले हैं. इसमें ग्वालियर के 9, मुरैना के 7 और भिंड शिवपुरी में एक-एक संक्रमित शामिल हैं. संक्रमित मरीजों में तीन 6 साल से कम उम्र के बच्चे भी हैं.

उधर, प्रशासन की लापरवाही के वजह से ग्वालियर का घोसीपुरा इलाका हॉटस्पॉट बन चुका है. यहां पिछले 9 दिन में एक ही परिवार में 7 पॉजिटिव केस मिल चुके हैं. ग्वालियर चंबल में वर्तमान में 168 एक्टिव केस हैं. अब तक कोरोना संक्रमित 259 मिल चुके हैं. जिसमें से 80 स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं और दो की  जान जा चुकी है. दोनों मृतक ग्वालियर के डबरा निवासी थे.

बता दें की लॉकडाउन में ढील के साथ ही सीमाओं पर चौकसी भी सुस्त पड़ती जा रही है. अब तक दूसरे राज्य या जिलों से आने वालों को क्वारंटाइन सेंटर में भेजा जा रहा था. मगर अब लोग सीधे अपने घर जा रहे हैं. इतना ही नहीं लोग खुद ही सैंपलिंग कराने अस्पताल जा रहे हैं और उन्हें वापस लौटाया भी जा रहा है. इस लापरवाही का परिणाम यह हुआ कि घोसीपुरा में एक मकान हॉट स्पॉट बन गया है. परिवार के 18 लोगों में से अब तक 7 लोग पॉजिटिव मिले हैं. इस परिवार के 8 लोग 16 मई को मुंबई से ग्वालियर आए थे. यह लोग सीधे अपने घर पहुंच गए. जांच में इस परिवार की 63 वर्षीय महिला पॉजिटिव मिली थी. इसके बाद बेटी, बहू संक्रमित पाए गए और अब रविवार को आई रिपोर्ट में दो बच्चों सहित चार पॉजिटिव मिले हैं. जिसमें से चार लोग तो मुंबई से आए थे. जबकि तीन अन्य परिवार के सदस्य संक्रमित पाए गए हैं. यह लोग मुंबई गए ही नहीं थे.

मध्य प्रदेश में बढ़ेगा तापमान, नौतपा की शुरुआत में हो सकती है भीषण गर्मी

इंदौर में नगर निगम के दो कर्मचारी निकले कोरोना पॉजिटिव, सब्जी वितरण की सेवा में थे

इंदौर में बढ़ा कोरोना का कहर, 24 घंटे में 104 मरीज आइसीयू में किए भर्ती

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -