आज़म खान परिवार पर दर्ज हैं 165 आपराधिक केस, समाजवादी पार्टी ने बनाया है उम्मीदवार

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के रामपुर से समाजवादी पार्टी (सपा) के प्रत्याशी और पूर्व मंत्री आजम खान ने गुरुवार को नामांकन दाखिल हो गया है। अदालत के आदेश पर बुधवार (26 जनवरी 2022) को सीतापुर जेल में आजम खान से नामांकन पत्र भरवाने के साथ ही अन्‍य सभी औपचारिकताएँ संपन्न कराई गई थीं। गुरुवार को आजम खान के चीफ इलेक्‍शन एजेंट असीम रजा ने बताया कि गुरुवार को उनका नामांकन  दाखिल कर दिया गया है। 

इस बीच सपा ने शीर्ष अदालत के आदेश का पालन करते हुए आजम खान, उनकी पत्नी तज़ीन फातिमा और उनके बेटे अब्दुल्ला आजम खान के आपराधिक रिकॉर्ड की जानकारी दी है। सपा ने हाल ही में ऐलान किया था कि पार्टी के टिकट पर जेल में बंद सांसद आजम खान आगामी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में अपने गृहनगर रामपुर से चुनावी मैदान में उतरेंगे।

बता दें कि आज़म खान रामपुर से वर्तमान लोकसभा सांसद हैं। वह फरवरी 2020 से सीतापुर जेल में कैद है। आज़म खान पर 87 आपराधिक शिकायतें दर्ज हैं।

आज़म खान के खिलाफ ज्यादातर मामले भारतीय दंड संहिता की धारा 153 (ए) (धार्मिक आधार पर विभिन्न समूहों के बीच घृणा को बढ़ावा देना), 159 (शब्द, हावभाव, या किसी महिला की शील भंग करने की मंशा से की गई गतिविधियों), 509 (धोखाधड़ी और बेईमानी से संपत्ति की डिलीवरी के लिए प्रेरित करना), 448 (हाउस ट्रेस पास), और 500. (मानहानि) से जुड़े हुए हैं। आजम खान पर चुनावी धाँधली का भी इल्जाम लगा है। उन पर कई मामलों (चुनाव के सिलसिले में झूठा बयान) में धारा 171 G के तहत आरोप लगे हैं। वहीं, आजम खान की पत्नी डॉ. तज़ीन फातिमा पर भी 35 केस दर्ज हैं। जो अभी जमानत पर बाहर हैं। आज़म के बेटे अब्दुल्ला के खिलाफ 43 मामले दर्ज हैं।

संयुक्त राष्ट्र ने होलोकॉस्ट के पीड़ितों को याद किया: गुटेरेस

एशियाई बाजार 15 महीने के निचले स्तर पर, फेड रिजर्व ब्याज दरें बढ़ा सकता है

DU के इस कॉलेज में खुला गाय संरक्षण और अनुसंधान केंद्र, छात्रों को दूध-घी भी मिलेगा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -